अगर आपके साथ भी हो रहा है ऐसा तो हो जाये सावधान, गले का कैंसर भी हो सकता है

55

हेल्थ कार्नर :-      आज मैं आपको बताने वाला हूँ एक ऐसी बीमारी के बारे में जिसका नाम सुनते ही हर कोई डर जाता हैं। दरअसल यह बीमारी ऐसी है कि एक बार हो गयी तो उसका ठीक होना लगभग नामुमकिन हैं। हम बात कर रहे हैं गले के कैंसर (थ्रोट कैंसर) के बारे में, आज के समय में कोई भी शहर एवं गाओ ऐसा नहीं बचा है जिसमे इस रोग के पीड़ित व्यक्ति न मौजूद हो।

ये है गले के कैंसर के 6 बड़े शुरुआती लक्षण, जिन्हे पहचान कर आप बचा सकते है किसी भी इंसान की जान

गले का कैंसर जितना आसानी से होता है दिन-प्रतिदिन उतना ही खतरनाक भी हो जाता हैं। परंतु आपको यह जानकारी ख़ुशी भी होगी कि गले का कैंसर एक ऐसी बीमारी है जिसका पता उसके घातक बनने से पहले ही चल जाता हैं। तो चलिए जानते हैं कि गले का कैंसर शुरुआती समय में किस तरह के लक्षण दिखता हैं।

1) महीने में 2 से 3 बार गले में सूजन आ जाना और इलाज करने पर भी जल्दी ठीक न होना भी कैंसर का शुरुआती लक्षण होता हैं।

2) अगर आपकी आवाज़ भारी होती जा रही है और आपको बोलने परेशानी भी हो रही है तो सावधान हो जाये और एक बार डॉक्टर की सलाह ज़रूर लें, यह कैंसर का बड़ा लक्षण होता हैं।

3) खासी में गाढ़ा कफ़ और खून निकलना एवं बार-बार उलटी आना और उसमे से खून निकलना गले के कैंसर का लक्षण होता हैं।

4) बहुत समय तक सर और कान में दर्द रहना भी कैंसर की निशानी होती हैं।

5) रोज़ दिन में कही बार चक्कर आना भी कैंसर का लक्षण होता है, परंतु ऐसा नहीं है कि चक्कर आने का मतलब कैंसर ही हो। क्योंकि वह कमजोरी के कारन भी हो सकता है लेकिन आप एक बार डॉक्टर की सलाह अवश्य ले लीजियेगा

अब आप समझ ही गए होंगे थ्रोट कैंसर के उन लक्षणों के बारे में जो शुरुआती समय में दिखाई देते हैं और अधिकतर लोग उन्हें नज़रअंदाज़ कर देते हैं। आपकी जानकारी के लिए बता दूँ कि कैंसर एक ऐसी समस्या है जिसका इलाज अब तक मेडिकल साइंस में कही भी मौजूद नहीं है इसलिए कृपया सावधानी बरते और अपने स्वाथ्य के साथ बिलकुल भी समझोता न करें।