अगर आप इस फल के औषधीय गुण से है , अनजान तो इसे जरूर पढ़ें

185

हेल्थ कार्नर :-   पपीता एक गुणकारी और मीठा फल हैं । कच्चा पपीता विटामिन ए से भरपूर होता हैं । जो सब्जी बनाने के लिए उपयोग किया जाता हैं जबकि पका हुआ पपीता विटामिन सी से भरपूर होता हैं । जिसे फल के रूप में खाया जाता हैं । इसके अलावा इसका उपयोग जूस , जेली , जैम बनाने के लिए भी किया जाता हैं । पपीता का उपयोग खाने के साथ साथ त्वचा की देखभाल के लिए किया जाता हैं । आयुर्वेद के अनुसार पपीते के सेवन से बालों का झड़ना ,कब्ज , पेट के कीड़े , स्कर्वी रोग , बवासीर , चर्मरोग , उच्च रक्तचाप , अनियमित मासिक धर्म आदि समस्याएं दूर हो जाती हैं ।

पपीते में पोटैशियम , कार्बोहाइड्रेट , प्रोटीन , कैल्शियम , फास्फोरस , कैलोरी , फाइबर , विटामिन ए , विटामिन बी , विटामिन डी और विटामिन सी पाया जाता हैं ।

कोलेस्ट्रॉल कम करने में सहायक

पपीते में उच्च मात्रा में फाइबर मौजूद होता हैं । साथ ही ये विटामिन सी और एंटीऑक्सिडेंट से भरपूर होता हैं , अपने इन्हीं गुणों के चलते ये कोलेस्ट्रॉल को नियंत्रित करने में काफी असरदार हैं ।

अगर आप इस फल के औषधीय गुण से है , अनजान तो इसे जरूर पढ़ें

 

वजन घटने में

एक मध्यम आकार के पपीते में 120 कैलोरी होती हैं । ऐसे में अगर आप वजन घटाने की बात सोच रहे हैं तो अपनी डाइट में पपीते को जरूर शामिल करें । इसमें मौजूद फाइबर्स वजन घटाने में मददगार होते है ।

रोग प्रति रोधक ताकत बढ़ाने में

रोग प्रतिरक्षा अच्छी हो तो बीमारियां दूर रहती हैं । पपीता आपके शरीर के लिए आवश्यक विटामिन सी की मांग को पूरा करता है । ऐसे में अगर आप इस रोज कुछ मात्रा में पपीता खाते हैं तो आपके बीमार होने की आशंका कम हो जाएगी ।

आंखो की रोशनी बढ़ाने में

पपीते में विटामिन सी तो भरपूर होता हैं साथ ही विटामिन ए भी पर्याप्त मात्रा में होता हैं । विटामिन ए आंखो की रोशनी के साथ ही बढ़ती उम्र से जुड़ी कई समस्यायों के समाधान में भी कारगर है ।

पाचन तंत्र को सक्रिय करने में

पपीते के सेवन से पाचन तंत्र भी सक्रिय रहता हैं । पपीते में कई पाचक एंजाइम्स होते हैं , साथ ही इसमें कई डाईट्री फाइबर्स भी होते हैं । जिसकी वजह से पाचन क्रिया सही रहती हैं ।

पीरियड्स के दौरान होने वाले दर्द में

जिन महिलाओं को पीरियड्स के दौरान दर्द की शिकायत होती हैं उन्हें पपीते का सेवन करना चाहिए । पपीते के सेवन से एक ओर जहां पीरियड साइकिल नियमित रहता हैं वहीं दर्द में भी आराम मिलता हैं ।