अगर शनिदेव के भयंकर प्रकोप से है बचना, तो गलती से भी न करे ये 5 कार्य

183

शनिदेव को न्याय का देवता कहा है। माना जाता है कि शनिदेव कार्मों के आधार पर फल देते हैं। कहते हैं कि शनिदेव की नजर कोई नहीं बच सकता है। ज्योतिष शास्त्र में भी शनि ग्रह की विशेष महत्ता बताई गई है। ज्योतिष के अनुसार, जिस व्यक्ति की कुंडली में शनि ग्रह कमजोर होता है, उसे कई तरह की परेशानियों का सामना करना पड़ता है। अगर आप शनि के प्रकोप से बचना चाहते हैं तो भूलकर भी ये पांच कार्य न करें। अगर आप गलती से भी ये कार्य कर दिये तो इसका बुरा प्रभाव आपके ऊपर पड़ना तय है।

शनिदेव के प्रकोप से है बचना, तो भूलकर भी ना करें ये 5 कार्य

  1. कहा जाता है कि जो भी अपने बड़े जन से झगड़ा करता है, खासकर चाचा या ताऊ से झगड़ा करता है, उसके ऊपर शनि का प्रकोप पड़ता है। माना जाता है कि ऐसे व्यक्ति को समाज में मान-सम्मान मिलना बंद हो जाता है।
  2. कभी भी मेहनत करने वाले इंसान को परेशान नहीं करना चाहिए। अगर आप मेहनत करने वाले इंसान को परेशान करेंगे तो आपकी कुंडली में शनि की दशा खराब होगी। जिस कारण आप परेशान रह सकते हैं।
  3. बात-बात पर अपशब्द या गाली देने से बचना चाहिए। अगर आप ऐसा करते हैं तो शनिदेव आपको बुरा फल देंगे। कहा जाता है कि ऐसे लोगों की सफलता मिलने में देर हो जाती है।
  4. मांस मदीरा के सेवन करने से बचना चाहिए। कहा जाता है जो लोग मांस मदिरा खाकर घर में हंगामा करते हैं, उनसे शनिदेव नाराज हो जाते है, जिस कारण उन पर बुरा प्रभाव पड़ता है।
  5. अगर आप किरायेदार हैं और किसी का घर या दुकान खाली नहीं कर रहे हैं तो आपसे शनिदेव नाराज हो जाएंगे और इसका असर आपके ऊपर पड़ेगा। इसलिए ऐसा कार्य करने से बचना चाहिए।