अपना सेहत सुधरने के लिए अपनाये इन घरेलू उपायों को

41

लाइव हिंदी खबर (हेल्थ कार्नर ) :-  नीम के पत्तों को चबाकर खाने और ऊपर से गुनगुने पानी में नमक डालकर गरारे करने से पायरिया की समस्या से निजात मिलती है।

इन घरेलू उपायों से संवारें सेहत, जानें इनके बारे में

यदि खांसी हो तो एक चम्मच शहद में एक चम्मच प्याज का रस मिलाकर दिन में दो-तीन बार लेने से बलगम आना बंद हो जाता है।
किशमिश और कालीमिर्च मिलाकर चबाने से मुंह के छाले ठीक हो जाते हैं।
जले हुए हिस्से पर शहद लगाने से फफोले नहीं पड़ेंगे।
सुबह खाली पेट गुनगुने पानी में नींबू व शहद मिलाकर पीने से वजन घटता है व पेट साफ रहता है।
सरसों के तेल की कुछ बूंदें नाभि में लगाने से होंठ की खुश्की दूर होती है।
लू लगने पर पैरों के तलवों व हाथों की हथेलियों पर प्याज का रस लगाने से आराम मिलता है।

बिना मेकअप के सुंदर दिखने की टिप्स - Look Beautiful Without Makeup In Hindi

कब्ज हो तो खाएं काला चना –
कई शोधों में साबित हुआ है कि काला चना नियमित लिया जाए तो कई बीमारियों में राहत मिलती है।
काले चने साबुत या अंकुरित दोनों ही फायदेमंद हैं। कब्ज, हृदय रोगियों के लिए काला चना लाभदायक है। यह त्वचा निखारता है।
काले चने खाने से शरीर में खून की कमी नहीं होती इसलिए एनीमिया के मरीजों को इसे नियमित लेना चाहिए।
काले चने में कई विटामिन और मिनरल्स होते हैं। इसमें लगभग 12 से 15 ग्राम प्रोटीन होता है। प्रचुर मात्रा में फाइबर भी है जो शरीर के लिए जरूरी है।
काले चने का सत्तू गर्मियों में पीने से लू नहीं लगती।
डायबिटीज के मरीजों के लिए भी चने खाना काफी फायदेमंद होता है।
काला चना कोलेस्ट्रॉल को कम करने में मदद करता है व दिल के रोगियों के लिए फायदेमंद है।