Breaking News

अमित शाह ने कोविड टीकाकरण अभियान की स्थिति की समीक्षा की

नई दिल्ली, 22 फरवरी (आईएएनएस)। देश भर में हेल्थ वर्कर्स और फ्रंटलाइन वर्कर्स को कोरोना वैक्सीन की दूसरी खुराक दी जा रही है और तीसरे चरण के टीकाकरण अभियान की तैयारियां अंतिम चरण में हैं। इस बीच, केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने सोमवार को सार्वजनिक स्वास्थ्य प्रतिक्रिया की जांच के लिए कोविड-19 टीकाकरण अभियान की प्रगति की समीक्षा की।

यह बैठक ऐसे महत्वपूर्ण समय में हुई है जब देश में 1.14 करोड़ लाभार्थियों को कोविड टीका लगाया गया है। स्वास्थ्य कर्मियों और फ्रंटलाइन वर्कर्स के लिए 16 जनवरी को टीकाकरण अभियान शुरू किया गया था।

टीकाकरण अभियान का तीसरा चरण मार्च में शुरू होना है। इसमें 50 वर्ष से अधिक उम्र के लोगों को कवर किया जाएगा। कम से कम 50 वर्ष की आयु वर्ग वाले लोगों की संख्या लगभग 27 करोड़ है।

शाह ने गृह मंत्रालय कार्यालय में बैठक की अध्यक्षता की। इसमें कोविड-19 की स्थिति की समीक्षा करने, टीकाकरण के लिए राज्यों और संघ शासित प्रदेशों की तैयारियों का जायजा लेने के लिए केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री हर्षवर्धन भी मौजूद थे।

Advertisements

बैठक में नीति आयोग के सदस्य वीके पॉल, कैबिनेट सचिव, प्रधानमंत्री के प्रधान सचिव, गृह सचिव, स्वास्थ्य सचिव, नेशनल सेंटर फॉर डिजीज कंट्रोल (एनसीडीसी) के निदेशक, एम्स के निदेशक रणदीप गुलेरिया और अन्य वरिष्ठ अधिकारी भी मौजूद थे।

भारत के ड्रग रेगुलेटर ने 3 जनवरी को पुणे स्थित सीरम इंस्टीट्यूट द्वारा निर्मित ऑक्सफोर्ड कोविड-19 वैक्सीन कोविशिल्ड, और देश में सीमित आपातकालीन उपयोग के लिए भारत बायोटेक द्वारा विकसित कोवाक्सिन को मंजूरी दी थी।

पिछले एक सप्ताह में कोविड मामलों में वृद्धि की खबरों के बीच अब तक 11 लाख से अधिक लोगों को कोविड के दो टीके लगाए जा चुके हैं। स्वास्थ्य मंत्रालय के ताजा आंकड़ों के अनुसार, देश में सोमवार को पिछले 24 घंटों में 14,199 नए मामले सामने आए। बीमारी के कारण ताजा 83 मौतों के साथ, कुल मिलाकर यह आंकड़ा 1,56,385 तक पहुंच गया है।

नवीनतम जानकारी के अनुसार, सोमवार तक देश भर में कुल 1,14,24,094 कोरोना वैक्सीन की खुराक दी गई।

केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय के अनुसार, भारत वैक्सीन की खुराक देने के मामले में सबसे तेज राष्ट्र बन गया है, हालांकि कई देशों ने बहुत पहले टीकाकरण अभियान शुरू किए थे।

–आईएएनएस

एसआरएस/एएनएम

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *