असम आना मेरे लिए हमेशा खास होता है : पीएम मोदी

0


नई दिल्ली, 21 फरवरी (आईएएनएस)। चुनावों के मुहाने पर खड़े असम के दौरे से एक दिन पहले रविवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि इस पूर्वोत्तर राज्य में जाना हमेशा खास होता है। उन्होंने ट्वीट कर कहा, असम जाना हमेशा खास होता है। एक बार फिर असम के लोगों के साथ मुझे धेमाजी में रूबरू होने का मौका मिल रहा है। इस सार्वजनिक कार्यक्रम में कई विकास कार्यों का शुभारंभ भी किया जाएगा।

इस यात्रा के दौरान मोदी सोमवार को तेल और गैस के अहम प्रोजेक्ट देश को समर्पित करेंगे, साथ ही युवाओं को नए मौके देने के लिए इंजीनियरिंग कॉलेज का उद्घाटन करेंगे। प्रधानमंत्री सुबह 11.30 बजे सिलापथार में आयोजित एक कार्यक्रम में इंडियन ऑयल की बोंगाईगांव रिफाइनरी में इंडमैक्स यूनिट, मधुबन, डिब्रूगढ़ में ऑयल इंडिया लिमिटेड के सेकेंडरी टैंक फार्म और तिनसुकिया के हेबेडा गांव में गैस कंप्रेसर स्टेशन देश को समर्पित करेंगे। साथ ही धेमाजी इंजीनियरिंग कॉलेज का उद्घाटन करेंगे और सुआलूची इंजीनियरिंग कॉलेज की आधारशिला रखेंगे।

इंडमैक्स यूनिट भारी कच्चे माल से हायर एलपीजी और हाई ऑक्टेन गैसोलीन का उत्पादन करती है। यह यूनिट रिफाइनरी की क्रूड प्रोसेसिंग क्षमता को 2.35 एमएमटीपीए (प्रति वर्ष मिलियन मीट्रिक टन) से बढ़ाकर 2.7 एमएमटीपीए तक बढ़ा देगी। इसके अलावा यह एलपीजी उत्पादन को 50 टीएमटी (हजार मीट्रिक टन) से बढ़ाकर 257 टीएमटी और पेट्रोल उत्पादन को 210 टीएमटी से बढ़ाकर 533 टीएमटी कर देगी।

वहीं ऑयल इंडिया लिमिटेड के सेकेंडरी टैंक फार्म को लगभग 40,000 किलो लीटर कच्चे तेल के सुरक्षित भंडारण और पानी से गीले कच्चे तेल को अलग करने के लिए बनाया गया है। 490 करोड़ रुपये के इस प्रोजेक्ट में एक ऐसी डिहाइड्रेशन यूनिट भी होगी, जिसकी संचालन क्षमता 10,000 किलो लीटर प्रतिदिन की होगी। इसी तरह तिनसुकिया के माकु म का गैस कंप्रेसर स्टेशन देश की कच्चे तेल की उत्पादन क्षमता में सालाना लगभग 16,500 मीट्रिक टन की बढ़ोतरी करेगा।

276 बीघा जमीन पर करीब 45 करोड़ रुपये की लागत से बना धेमाजी इंजीनियरिंग कॉलेज राज्य का सातवां सरकारी इंजीनियरिंग कॉलेज है। यहां सिविल, मैकेनिकल और कंप्यूटर साइंस स्ट्रीम में बी.टेक कोर्स संचालित होंगे।

–आईएएनएस

एसडीजे-एसकेपी

विज्ञापन
Footer code:

विज्ञापन