आयुर्वेद मे यह पौधा संजीवनी बूटी से कम नहीं, जरूर जाने इसके चमत्कारी फायदे

451

हेल्थ कार्नर :-   आज हम आप लोगों को एक ऐसे चमत्कारी पौधे के फल के बारे में बताने जा रहे है। जिसे आयुर्वेद में संजीवनी बूटी का स्थान दिया गया है। उस फल को “मकोय” के नाम से जाना जाता है। आयुर्वेद में मकोय को स्वास्थ्य के लिए बहुत ही फायदेमंद माना गया है। तो चलिए जाने मकोय के चमत्कारी फायदे।

आयुर्वेद मे यह पौधा संजीवनी बूटी से कम नहीं, जरूर जाने इसके चमत्कारी फायदे

मकोय के फायदे-

1. यदि आपको रात में नींद नहीं आने की समस्या है और रात भर परेशान रहते है। तो इस अवस्था मे आप मकोय के जड़ को सुखाकर उसका काढ़ा बनाकर या प्रतिदिन रात में गुड़ के साथ सेवन कर सकते है। इसे लेने से आपको बहुत ही अच्छी नींद आएगी और रात में नींद नहीं आने की समस्या का खत्म हो जाएगी।

2. यदि आप त्वचा से संबंधित रोग से ग्रस्त है या खाज खुजली की समस्या से परेशान है। तो आप मकोय की पत्तियों को पीसकर उसका पेस्ट बना लें। और उस पेस्ट को खुजली से ग्रस्त स्थान पर लगाएं। इस प्रक्रिया से बहुत जल्द ही खुजली राहत मिल जाएगी।

3. यदि किसी व्यक्ति को किडनी से संबंधित कोई रोग से परेशान है, तो उस व्यक्ति को प्रतिदिन मकोय की सब्जी बनाकर खान चाहिए। उस व्यक्ति को पूरे 1 महीने तक इसका सेवन करना चाहिए।