क्या आप जानते है चाय-कॉफी व तली-भुनी चीजों से बढ़ रही ये बीमारी, अभी पढ़े

9

लाइव हिंदी खबर (हेल्थ कार्नर ) :-  सफेद दाग के इलाज के लिए पंचकर्म से शरीर को डिटॉक्सिफाई करते हैं। बाकुची बीज, खदिर (कत्था), दारुहरिद्रा, करंज, आरग्यवध (अमलतास) चूर्ण के प्रयोग से खून को साफ किया जाता है।
बाहर खाते हैं तो…
शादी-पार्टियों के खाने में अमूमन विरुद्ध प्रकृति वाले पकवान या चीजें होती हैं जिनसे बचना चाहिए। ठंडी-गरम चीजें भी तुरंत एकसाथ न लें।

SKIN CARE : सावधान! चाय-कॉफी व तली-भुनी चीजों से बढ़ रही ये बीमारीखानपान बदलें, तांबे के बर्तन में पानी पीएं
सफेद दाग होने पर सबसे पहले डी वॉर्मिंग कराते हैं। मरीज को तांबे के बर्तन में पानी पीना चाहिए। हरी पत्तेदार सब्जियां, गाजर, लौकी, सोयाबीन, दालें ज्यादा खाना चाहिए। एक कटोरी भीगे काले चने और 3-4 बादाम रोज खाएं। ताजा गिलोय या एलोवेरा जूस पीएं। इससे आराम मिलता है।

क्या आप जानते है चाय-कॉफी व तली-भुनी चीजों से बढ़ रही ये बीमारी, अभी पढ़ेइनका परहेज करें
खानपान में खट्टी चीजें जैसे नीबू, संतरा, अंगूर, टमाटर, आंवला, आम, अचार, दही, लस्सी, मिर्च, मैदा, गोभी, उड़द दाल कम खाएं। आहार में गरम प्रकृति की चीजों को खाने से परहेज करें। इसके अलावा मांसाहार और जंक व फास्ट फूड व पैक्ड चीजों को को बिल्कुल न खाएं। सॉफ्ट डिंक्स के प्रयोग से बचें। नमक, मूली और मांस-मछली के साथ दूध न पीएं।