खीरा कब ज़हर बन जाता है, क्लिक करके जान लें वरना पछताना पड़ेगा

417

हेल्थ कार्नर :-   खीरा सलाद के रूप में उपयोग किया जाता है। खीरा खाने से शरीर में पानी का संतुलन बने रहता है। खीरा में पर्याप्त मात्रा में फैट, कैलोरी और अन्य पोषक तत्व विद्यमान रहते है। लेकिन कभी भी जरूरत से ज्यादा खीरा का सेवन नहीं करे। क्योंकि जरूरत से ज्यादा खीरा शरीर में जहर का रूप ले लेता है। दोस्तों आज हम आपको बताएंगे कि खीरा कब ज़हर बन जाता है, क्लिक करके जान लें वरना पछताना पड़ेगा।

खीरा कब ज़हर बन जाता है, क्लिक करके जान लें वरना पछताना पड़ेगा

• खीरा में कुकुर्बिटाइन्स नामक विषैला यौगिक पाया जाता है। जब यह टाॅक्सिक पदार्थ शरीर में जाता है तो इससे किडनी, लीवर, मूत्राशय, अग्नाशय आदि में सूजन हो सकती है। और हमें भयंकर दर्द का सामना करना पड़ सकता है।

• खीरा में मौजूद कुकुर्बिटाइन्स विषैले यौगिक से डायरिया, पेट फूलना, पेट में ऐठन जैसी समस्याएं हो सकती है।

• खीरा के सेवन से शरीर में मौजूद पानी विषाक्त होकर खून में मिल जाने से अनेक भयंकर बीमारियां हो सकती है।

• सर्दी-खांसी-जुकाम और सांस की बीमारी से पीड़ित व्यक्ति द्वारा खीरा के सेवन से साइनस की बीमारी हो सकती है।

इसलिए हमेशा नियंत्रित मात्रा में ही खीरा का सेवन करे। अधिक मात्रा में खीरा का सेवन करने से यह जहर का रूप ले लेता है।