गाय के दूध में नीबू का रस डालकर पीने से जड़ से खत्म हो जाता है यह रोग,

590

हेल्थ कार्नर :-    जैसा की सभी जानते है की गाय के मूत्र और दूध से कई रोगों के लिए रामबाण दवाइयां बनाई जाती है, आयुर्वेद में गाय को माता का दर्जा इसलिए दिया गया है क्योंकि गाय से प्राप्त होने वाली चीजों में किसी न किसी बिमारी का इलाज छिपा होता है. ऐसे ही गाय और नीबू के मिश्रण से कई बवासीर की बिमारी आ इलाज किया जाता है, यह सिर्फ पुरुषों के लिए ही उपयोगी होती है इसलिए इसका सेवन केवल पुरुषों को ही करना चाहिए.

Auto Draft

बवासीर दो तरह की होती है खूनी बवासीर और बादी वाली बवासीर। खूनी बवासीर में मस्सों से खून निकलता रहता है जबकि बादी वाली बवासीर में मस्से काले सुर्ख रहते है और मस्सों में खुजली पीडा और सूजन रहती है। गाय का दूध और नींबू के रस एक साथ लेने पर बवासीर में रामबाण दवा की तरह कार्य करता हैं| दोनों में पाचन तंत्र के मजबूत करने वाले तत्व मौजूद होते है|

उपचार विधि: बिना फ्रिज में रखा एक कप गाय के ठंडे दूध में 3 चम्मच नींबू का रस मिलाकर मिश्रण बना ले. इस मिश्रण को फटने के पहले सेवन करना है| इस विधि का सेवन लगातार 3 दिन खाली पेट करने से बवासीर की बिमारी से राहत मिल जाएगी. इसका सेवन केवल पुरुषों के लिए ही उपयोगी होता है महिलों को इसका नही करना चाहिए क्योंकि यह पीरियड्स मे ज्यादा रक्त स्त्राव का कारण बन सकता है.