घर में धन वर्षा कराती है, हनुमान जी की ऐसी तस्वीर जरूर जाने

लाइव हिंदी खबर :-श्रीराम जी के भक्त हनुमानजी को कलयुग का देवता माना जाता है। एक ओर जहां वे 11वें रुद्रावतार माने जाते हैं वहीं इन्हें संकटमोचक भी कहा जाता है, इसका कारण ये हैं कि हनुमान जी अपने भक्तों पर आने वाले तमाम तरह के कष्टों और परेशानियों को हर लेते हैं। भगवान शिव शंकर के 11वें रुद्रावतार होने के कारण भगवान हनुमान भी भगवान शिव की तरह ही जल्दी से प्रसन्न होने वाले देवता हैं। माना जाता है कि इसी कारण हनुमान जी को पूजने वाले भक्तों की सबसे ज्यादा संख्या है।

घर में धन वर्षा हनुमान जी की ऐसी तस्वीर जो कराती है

हम हनुमान जी की कृपा पाने के लिए मंदिर जाकर उनकी पूजा बड़े ही श्रद्धा भाव के साथ करते हैं। साथ ही अपने घर के मंदिर में भी हनुमान जी की मूर्ति व तस्वीर भी रखते हैं, जानकारों के अनुसार ऐसे में ये पता जरूर होना चाहिए कि हनुमान जी के किस स्वरूप को घर में रखना चाहिए, क्योंकि कहा जाता है कि उनके कुछ रूपों को घर में रखने से अशांति उत्पन्न हो सकती है।

जानें किस स्वरूप को घर में लगाएं और किसको नहीं…
1. संजीवनी लिए हुए आकाश में उड़ते हुए हनुमान जी जिस तस्वीर में नजर आएं उसे घर में भूल कर भी ना लगाएं, शास्त्रों के अनुसार हमेशा स्थिर अवस्था में हनुमान जी की मूर्ति की पूजा होती है।

2. ऐसी तस्वीर और मूर्ति को अपने घर में बिलकुल भी नहीं लगाना चाहिए जिसमें हनुमान जी ने अपनी छाती चीर रखी हो।

3. जिन तस्वीरों में हनुमान जी ने अपने कंधों पर भगवान राम और लक्ष्मण को बैठा रखा है, उसे भी अपने घर में भूल कर भी ना लगाएं।

4. भगवान हनुमान जिन तस्वीरों में राक्षसों का संहार करते हुए या फिर लंका जलाते हुए नजर आएं, उसे अपने घर में बिलकुल भी ना लगाए। ऐसी तस्वीर से हनुमान जी की कृपा भी नहीं मिलती, साथ ही घर में सुख और समृद्धि भी नहीं रहती।

5. अब अगर बात करें कि हनुमान जी की किस तस्वीर को घर में लगाने से सुख-समृद्धि बनी रहती है तो पीले रंग के वस्त्र पहने हुए युवा अवस्था की तस्वीर लगाएं।

6. हनुमान जी की लंगोट पहने हुए तस्वीर उस कमरे में जरूर लगाएं जिसमें पढ़ाई करनी हो, इससे मन एकाग्र होता है।

7. हुनमान जी की उस तस्वीर को अपने घर में जरूर लगाएं जिसमें वो भगवान राम की सेवा में लीन हो, घर में ऐसी तस्वीर को लगाने के संबंध में कहा जाता है कि ऐसा करने से घर में धन की वर्षा होती है।

 

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Scroll to Top