जाने किस हार्मोन्स के बदलाव से होता है चटपटा खाने का मन, अभी पढ़े

77

लाइव हिंदी खबर(हेल्थ टिप्स ) :-  हर उम्र की महिलाओं को चटपटा खाने का मन होता है। मेडिकली देखा जाए तो यह कोई बीमारी नहीं है, हार्मोन्स में होने वाले बदलाव से ऐसा होता है। लेकिन अनियंत्रित रूप से ज्यादा तीखा व चटपटा खाने पर पेट संबंधी दिक्कतें हो सकती हैं –

women’s Health – हार्मोन्स में बदलाव से करता है चटपटा खाने का मन

डिप्रेशन मुख्य वजह
कई रिसर्च में सामने आया है कि जब शरीर और दिमाग एकसाथ अवसाद को दूर करने का प्रयास करते हैं तो हार्मोन्स तेजी से स्त्रावित होने लगते हैं जिससे व्यक्ति की भूख बढ़ जाती है। इसी कारण से उसकी मीठा, खट्टा या खासकर चटपटा खाने की तीव्र इच्छा होती है। इसके अलावा शरीर में किसी खास पोषक तत्त्व की कमी से भी विशेष चीज खाने की ललक बढ़ती है। जैसे कैल्शियम की कमी से नमकीन खाना।

ये ज्यादा परेशान
30 या 40 की उम्र के पार महिलाओं में चटपटा खाने की इच्छा ज्यादा होती है। इसका कारण इस दौरान अचानक होने वाले हार्मेनल बदलाव हैं। इसी वजह से महिलाओं में थायरॉइड के मामले भी बढ़ते हैं। मेनोपॉज की शुरुआत, इसके दौरान, माहवारी आने से कुछ दिन पहले या पीरियड्स के दौरान स्वभाव में अचानक बदलाव आने से चटपटा खाने की इच्छा होती है व तीखा खाने से मूड ठीक होता है।

Women Health: पीरियड्स से पहले लड़कियों को क्यों होती है जंक फूड खाने की क्रेविंग? - why-do-girls-have-craving-to-eat-junk-food-before-periods - Nari Punjab Kesari

परेशानियां : कभी कभार कुछ चटपटा खाने की इच्छा होना और खाना सामान्य है। लेकिन बार-बार या हफ्ते में 3-4 बार ऐसा होने से आंतों और लिवर पर बुरा असर होता है। इससे एसिडिटी, फूड पॉइजनिंग, दस्त, उल्टी, पेटदर्द जैसी स्ट्रोइंटेस्टाइनल प्रॉब्लम हो सकती हैं। कई बार लिवर व आंतों पर ज्यादा असर होने से पेट भोजन को पचा नहीं पाता जिससे अल्सर व लिवर संबंधी समस्याएं होती हैं।

ये हो सकते हैं विकल्प
– घर पर ही जलजीरा पानी, चटपटी मसाले वाली छाछ या नींबूपानी बनाकर पी सकती हैं।
– प्याज, टमाटर, हरी मिर्च के साथ मुरमुरे, नींबू का रस और इमली की चटनी मिलाकर भेलपूरी बनाकर खा सकती हैं।
– घर पर दही पपड़ी चाट बनाने के लिए मूंग, मोठ और चना उबालकर उसमें प्याज और टमाटर बारीक काटकर मिलाएं। आप चाहें तो इसमें अजवाइन और भुना जीरा भी मिला सकती हैं।
– मसाले वाला मौसमी का जूस या आमपना भी अच्छे विकल्प हैं।
– मार्केट में मिलने वाली पानीपुरी को आप घर पर भी तैयार कर सकती हैं। इसमें आपको मसालों का अंदाजा रहेगा।