ज्योतिष भविष्यवाणी: शनि प्रकोपों से मिल जायेगी मुक्ति, बस लगातार 8 शनिवार कर लें ये उपाय

7

ज्योतिष भविष्यवाणी: शनि प्रकोपों से मिल जायेगी मुक्ति, बस लगातार 8 शनिवार कर लें ये उपायलाइव हिंदी खबर :- शनिवार का दिन शनि से संबंधित उपाय और पूजा करने से शनिदेव को प्रसन्न करने का प्रयास किया जाता है। ज्योतिषशास्त्र के अनुसार शनिवार के दिन उपाय करने से शनि दोषों से मुक्ति मिलती है। शनि देष किसी जातक की कुंडली में होने से उसका जीवन कठिनाईयों से भर जाता है। धार्मिक मान्यताओं के अनुसार शनिवार का दिन शनिदेव को समर्पित होता है। लेकिन क्या आपको पता है, कुछ विशेष उपाय करके आप शनिदेव के साथ-साथ हनुमान जी को भी प्रसन्न कर सकते हैं। आइए जानते हैं कौन से हैं वे उपाय…

शनिवार के दिन करें ये उपाय

शनिवार के दिन शनिदेव के किसी भी मंदिर में जातक शनि देव का तेल से अभिषेक करें। हनुमान जी और शनिदेव प्रसन्न होंगे।

– शनिवार के दिन शनि महाराज के मंत्र का 108 बार जप करें। मंत्र- ओम प्रां प्रीं पौं सः शनैश्चराय नमः का जप करें। शनिदेव प्रसन्न होते हैं।

– शनिवार के दिन लोहे के बर्तन में सरसों का तेल भरकर उसमें अपना चेहरा देखें और बाद में तेल से भरे बर्तन सहित पात्र किसी जरुरतमंद को दान कर दें। ऐसा करने से शनिदेव प्रसन्न होंगे और शुभ परिणाम प्राप्त होंगे।

– हर शनिवार को सुंदरकांड का पाठ करें। क्योंकि शनिवार के दिन सुंदरकांड का पाठ करने से हनुमान जी प्रसन्न होते हैं और शनिदेव के प्रकोपों से मुक्ति दिलाते हैं।

– शुक्रवार की रात में सवा किलो काले चने भिंगोने के लिए रख दें। शनिवार को चने को काले कपड़े में एक कोयला, चुटकी भर सिंदूर और एक सिक्का बांधकर यमुना में प्रवाहित कर दें। अगर आपके आस-पास यमुना नहीं है तो किसी भी नदी में प्रवाहित कर दें। यह टोटका कम से कम आठ शनिवार करने का विधान है।

– शनि की कृपा पाने के लिए हर दिन हनुमान चालीसा का पाठ करें और इस पाठ से मंगल और शनि दोनों अनुकूल रहेंगे।