दिल्ली, उत्तर प्रदेश समेत देश के इन 6 राज्यों में भूकंप का भय, दहशत में लोगों का पलायन

12

लाइव हिंदी खबर :- भूकंप दिल्ली, उत्तर प्रदेश, उत्तराखंड, बिहार, हरियाणा और राजस्थान में आया। घरों और इमारतों में कंपन महसूस होते ही घबराए हुए लोग बाहर निकल आए और सड़कों और गलियों में जमा हो गए। भारत के पड़ोसी देश नेपाल के सुदरबासिम क्षेत्र में कल दोपहर एक शक्तिशाली भूकंप आया। रिक्टर पैमाने पर इसकी तीव्रता 5.9 अंक दर्ज की गई। सुदरबसीम प्रांत के बाजुरा, कैलाली और तनकाठी जिलों में भूकंप के जोरदार झटके महसूस किए गए। इलाके में कई घर क्षतिग्रस्त हो गए। इनमें से एक की मौत हो गई।

नेपाल में भूकंप के झटके भारत की राजधानी दिल्ली, उत्तर प्रदेश, उत्तराखंड, बिहार, हरियाणा और राजस्थान में भी महसूस किए गए। दिल्ली में भूकंप की तीव्रता रिक्टर पैमाने पर 5.4 दर्ज की गई। भूकंप दिल्ली में करीब 30 सेकंड तक रहा। इससे घरों में रखा सामान नीचे गिर गया। जैसे ही कंपन अपार्टमेंट्स और बहुमंजिली इमारतों में महसूस किए गए, घबराए हुए लोग तुरंत वहां से निकल गए और सड़कों और गलियों में जमा हो गए।

दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने ट्वीट किया, ‘दिल्ली में भूकंप के झटके महसूस किए गए। मुझे उम्मीद है कि सभी लोग सुरक्षित होंगे। दिल्ली के अमित पांडेय कहते हैं, “मैं एक अपार्टमेंट बिल्डिंग की 5वीं मंजिल पर रहता हूं. मैं अपने घर में भूकंप को अच्छी तरह महसूस कर सकता था। घरों में लटके जेवर कंपन में झूम उठे। भूकंप करीब 30 सेकेंड तक रहा।” भूकंप के दौरान घरों में सजावटी रोशनी और पंखे के हिलने के वीडियो सोशल मीडिया पर खूब शेयर किए गए।

भूकंप के झटके उत्तर प्रदेश के बरेली और लखीमपुर खीरी में महसूस किए गए। एहतियात के तौर पर छात्रों को तुरंत स्कूल की इमारतों से निकालकर मैदान में लाया गया। भूकंप के झटके उत्तराखंड की राजधानी देहरादून, चमोली और नैनीताल में महसूस किए गए। नेपाल से सटे बिहार और दिल्ली से सटे हरियाणा में भूकंप के हल्के झटके महसूस किए गए। राजस्थान की राजधानी जयपुर में भूकंप के झटके महसूस किए गए।

उधर मुख्य सचिवालय के कर्मचारी कार्यालय से निकलकर सड़क पर जमा हो गए। दिल्ली सहित किसी भी राज्य में जान-माल की क्षति नहीं हुई। 12 नवंबर, 29 नवंबर, 1 और 5 जनवरी को दिल्ली और उसके आसपास के इलाकों में आए भूकंप के बाद फिर से भूकंप के झटके महसूस किए गए हैं, जिससे लोगों में डर है.