दुःख, कलेश, असफलता आदि को करेंगे दूर, शनिवार को नहाते समय पानी में डाल लें ये एक चीज़

249

शनिदेव को प्रसन्न करने के लिए शनिवार के दिन आपको शनिदेव का पूजन करना चाहिए। शनिदेव को नौग्रहों में न्याय के देवता कहा जाता है। शनिदेव अपने गुस्से के लिए जाने जाते हैं और ज्योतिष के अनुसार कहा जाता है की शनिदेव जब भी किसी जातक की कुंडली में गलत भाव में बैठते हैं तो व्यक्ति को बहुत सी कठिनाईयों का सामना करना पड़ता है। इन्हीं कठिनाईयों को कम करने के लिए हर पीड़ित व्यक्ति शनिदेव से जुड़े उपायों को करता है। इन उपायों को करने से शनिदेव प्रसन्न होकर आप पर कृपा दृष्टि बरसाएंगे और आपके जीवन से दुःख, कलेश, असफलता आदि को दूर करेंगे और अपनी कृपा आप पर बरसाएंगे। आइए जानते हैं उन उपायों के बारे में….

हो जाएंगे वारे-न्यारे शनिवार को नहाते समय पानी में डाल लें ये एक चीज़

शनिवार के दिन किसी गरीब को एक जोड़ी काली चप्पल दान करें। इससे शनि दोष खत्म हो जाएगा और नकारात्मक प्रभाव भी खत्म होगा।

शनिवार के दिन अपनी लंबाई के बराबर एक काला धागा काट लें और उसे एक पानी वाले नारियल पर लपेटकर नदी में प्रवाहित कर दें। ऐसा करने से आपकी सभी समस्याएं जल्द ही दूर हो जाएगी।

शनि के नकारात्मक प्रभाव से बचने के लिए एक काले कपड़े में भीगे हुए काले चने और कोयले का टुकड़ा बांधकर किसी नदी में बहा दें। ऐसा करने से शनि का प्रकोप कम होगा।

जिन लोगों पर शनि की महादशा चल रही है वे लोग इससे छुटकारा पाने के लिए आज के दिन अपनी मध्यमा अंगुली में काले घोड़े के नाल का बना छल्ला पहनना चाहिए। इसे पहनने से पहले इसे शुक्रवार की रात को गंगाजल एवं दूध में डूबोकर रखें।

मुसीबतों से छुटकारा पाने के लिए पीपल के पेड़ के चारों ओर कच्चा सूत लपेटें। सात बार यह क्रिया करने से शनि की टेढ़ी नजर से निजात मिलता है।

अगर आपके काम में रुकावटें आ रही हो तो आप शनिवार के दिन काले कुत्ते को काले तिल के बने सात लड्डू खिलाएं। इससे शनि देव प्रसन्न होंगे।

शनि के लिए तेल का दान करें। इसके लिए एक कटोरी में तेल लें और तेल में अपना चेहरा देखें। ऊँ शं शनैश्चराय नम: मंत्र का जाप करें। इसके बाद तेल का दान करें। ये उपाय हर शनिवार को करना चाहिए।

जो लोग मकान का सुख लेना चाहते हैं उन्हें शनिवार के दिन, भो शनिदेवः चन्दनं दिव्यं गन्धादय सुमनोहरम् | विलेपन छायात्मजः चन्दनं प्रति गृहयन्ताम् | मंत्र का जाप करते हुए शनि देव को चंदन अर्पित करें।

शनिवार को नहाते समय पानी में थोड़े से काले तिल डाल लेना चाहिए। इस उपाय से बुरी नजर और शनि के दोष दूर हो सकते हैं।