धन से भर जाएगा भंडार,आने वाले बुधवार के दिन भगवान कुबेर की पूजा कर बोल दें ये शब्द

120

बहुत सारा पैसा, सुख शांति और खुशहाली सब लोग चाहते हैं। लेकिन कभी कभी हमारे भाग्य में वो सब कुछ नहीं होता जो हम चाहते हैं। कई बार हमारी इच्छाएं अधूरी भी रह जाती है। इस सब के कई कारण होते हैं। लेकिन इनके उपाय भी जरुर होते हैं। भगवान की पूजा-पाठ और उनकी आराधना तो हम करते ही है, लेकिन यदि पूजा सही दिन या भगवान को समर्पित दिन की जाए तो बहुत ही अच्छा होता है। जैसे श्री गणेश जी की आराधना के लिए बुधवार का दिन बहुत अच्छा माना जाता है। इसके साथ ही यदि आपको धन संबंधित कोई परेशानी है तो आप इस दिन गणेश जी के साथ-साथ कुबेर की पूजा भी करें। जी हां, क्योंकि गणेश जी रिद्धि-सिद्धि प्रदान करते हैं तो कुबेर जी धन के देवता है। बुधवार के दिन इन्हें प्रसन्न करने के लिए पूजा करने के बाद दो शब्द बोलने से कुबेर जल्दी प्रसन्न होते हैं। तो आइए जानते हैं कुबेर जी के सामने कौन से शब्द बोलना चाहिए।

धन धान्य से भर जाएगा भंडार,आने  बुधवार के दिन भगवान कुबेर की पूजा कर बोल दें ये शब्द,

माना जाता है की जिस किसी व्यक्ति को भगवान कुबेर की कृपा प्राप्त हो जाती है उसे कभी भी धन संबंधि परेशानियों का सामना नहीं करना पड़ता है। इसलिए भगवान कुबेर की कृपा प्राप्त करने के लिए उनके सामने एक मंत्र बोलने से पैसों से संबंधित परेशानियां हल हो जाती है। इस मंत्र का वर्णन रावण संहिता में भी मिलता है। लेकिन मंत्र का जाप आपको पूर्ण रुप से निश्छल होकर ही करना होगा। इसके लिए आपका मन शुद्ध होना चाहिए और आपके मन में पूरी श्रृद्धा होनी चाहिए। यदि आप अपने मन में छल, कपट, क्रोध लेकर जप करेंगे तो यह आपके लिए कोई फल प्राप्ति नहीं होगी। क्योंकि इन अवगुणों के होने से ये मंत्र कारगर सिद्ध नहीं होता है। आइए जानते हैं कुबेर मंत्र…

ॐ यक्षाय कुबेराय वैश्रवाणाय, धन धन्याधिपतये।
धन धान्य समृद्धि मे देहि दापय स्वाहा ।।

ध्यान रखें की जब भी आप इस मंत्र का जप करेंगे उस वक्त धन लक्ष्मी कौड़ी को अपने पास रखें, इस मंत्र का नियमित रूप से तीन माह तक जाप करें और तीन माह के जाप के बाद धन लक्ष्मी कौड़ी को अपने तिजोरी में रख दें। घर में पैसों की तंगी से छुटकारा जरुर मिलेगा।