नीम की पत्तियों के सेवन से यह 3 गंभीर रोग हमेशा के लिए खत्म हो जाते है

368

हेल्थ कार्नर :-   नीम का पेड़ वातावरण को शुद्ध बनाने में अपनी महत्वपूर्ण भूमिका निभाता है. नीम की पत्तियों में ऐसे बहुत से गुण पाए जाते है. जो बहुत सी बीमारियों को खत्म करने की ताकत रखते है. नीम के पेड़ की इस तरह रोग प्रतिरोधक क्षमता के कारण इसकी पत्तियों का इस्तेमाल बहुत सी दवाओं के निर्माण में भी किया जाता है.

नीम की पत्तियों के सेवन से यह 3 गंभीर रोग हमेशा के लिए खत्म हो जाते है

गर्मियों के दिनों में त्वचा संबंधी बहुत सी बीमारियां हो जाती है. और ज्यादा गर्मी के कारण चेहरे में मुहांसे होने का खतरा भी बढ़ जाता है. नीम को प्रकृति ने मानो प्राकृतिक चिकित्सक के रूप में इसे विशेष रूप से बनाया है. नीम के गुणों की कोई सीमा नहीं है. नीम के द्वारा आप स्वास्थ्य एवं सौंदर्य दोनों बनाए रख सकते हैं.

नीम के पत्ते 10 ग्राम, बेर के पत्ते 10 ग्राम दोनों को अच्छी तरह पीसकर इसका उबटन (लेप) बना लें. इस लेप को गंजे सिर पर मालिश करके 1 से 2 घंटे बाद धोने से बाल उग आते हैं. इसका प्रयोग 1 महीने तक करने से लाभ होता है.

जब पसीने के कारण चेहरे पर कील और मुहांसे हो जाते है. तब ऐसे में नीम की पत्तियों का लैप कील और मुहांसों पर लगाने से मुहांसे चेहरे से जल्दी ही गायब हो जाते है.

जब भी किसी को मलेरिया हो जाता है. तब ऐसे में नीम की पत्तियों का काढ़ा मलेरिया के इलाज के लिए सर्वोत्तम दवा मानी जाती है. इसके लिए 50 ग्राम नीम के पत्ते और 4-5 काली मिर्च मिलाकर पीसें और गरम पानी में घोलकर छान लें. और पिलाए यह मलेरिया नाशक पेय है.