पाकिस्तान के नापाक मंसूबों का पर्दाफाश – LHK MEDIA ~ LIVE HINDI KHABAR

0


नई दिल्ली, 23 फरवरी (आईएएनएस)। पाकिस्तान की भारत विरोधी प्रचार मशीनरी अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर भारत सरकार को शर्मिदा करने के लिए हर स्थिति का फायदा उठाने की कोशिश पर काम कर रही है।

इस कड़ी में नवीनतम चाल पाकिस्तान में एक ट्रैक्टर रैली का आयोजन करना है, जिसे पाकिस्तान के कुख्यात खालिस्तानी सिख नेता गोपाल सिंह चावला के दिमाग की उपज माना जाता है, जो गर्व से मुंबई हमले के मास्टरमाइंड हाफिज सईद का दोस्त होने का दावा करता है।

चावला ने सोमवार को भारतीय किसानों के साथ एकजुटता व्यक्त करने के लिए सिख धर्म के संस्थापक, गुरु नानक देव की जन्मस्थली ननकाना साहिब में एक ट्रैक्टर रैली निकालने की घोषणा की।

पाकिस्तान में इंटर-सर्विसेज इंटेलिजेंस के खास चावला ने सोशल मीडिया पर एक वीडियो संदेश अपलोड किया जिसमें उसे ट्रैक्टर रैली निकालने की घोषणा करते हुए देखा जा सकता है, और दावा किया गया कि एक हजार से अधिक ट्रैक्टर इसमें शामिल होंगे।

हालांकि, उसने ट्रैक्टर रैली किस दिन होगी, इसकी जानकारी नहीं दी है।

कुछ दिनों पहले, चावला ने इसी तरह का बयान दिया था और सूत्रों के मुताबिक, आईएसआई ने अंतर्राष्ट्रीय समुदाय को यह दिखाने के लिए भारतीय सिख जत्था की उपस्थिति के दौरान ननकाना साहिब में एक ट्रैक्टर रैली निकालने की योजना बनाई थी कि भारत में सिख नरेंद्र मोदी के नेतृत्व वाली सरकार से खुश नहीं हैं।

हालांकि, सूत्रों ने बताया कि पाकिस्तान के नापाक इरादों के बारे में जानकारी मिलने पर, भारत सरकार ने सिख जत्थे को सीमा पार जाने की अनुमति देने से इनकार कर दिया, और भारत को शर्मिदगी महसूस कराने के उसके नापाक मंसूबों पर पानी फेर दिया।

17 फरवरी को गृह मंत्रालय ने एसजीपीसी के नेतृत्व वाले सिख जत्थे को साका ननकाना साहिब के शताब्दी समारोह में भाग लेने के लिए पाकिस्तान जाने की अनुमति से इनकार कर दिया था।

सुरक्षा के खतरे और पाकितान में कोविड-19 स्थिति को यात्रा रद्द करने का कारण बताया गया।

सैकड़ों भारतीय सिखों की उपस्थिति में अपने नियोजित ट्रैक्टर रैली की विफलता के बाद, पाकिस्तान ने सोमवार को चावला के माध्यम से निकट भविष्य में इसी तरह की रैली आयोजित करने की घोषणा की।

वीडियो में, चावला ने ट्रैक्टर रैली की तारीख का उल्लेख नहीं किया, लेकिन दावा किया कि सिख जत्था रैली में भाग लेने के लिए कराची, इस्लामाबाद और पेशावर सहित पाकिस्तान के विभिन्न शहरों से ननकाना साहिब पहुंचेगा।

सूत्रों ने बताया कि आईएसआई ने पहले ही पाकिस्तान में सिख नेताओं से संपर्क स्थापित कर लिया है, जिसमें सिंध का महेश सिंह, बलूचिस्तान का जसबीर सिंह, पेशावर का प्रताप सिंह, पंजा साहिब का गुरमेल सिंह और ननकाना साहिब का पप्पल एस. सिंह शामिल हैं, उनसे आग्रह किया कि वे ट्रैक्टर रैली निकालने के लिए तैयार रहें।

संदेश में, चावला ने भारतीय प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की भी निंदा की और उन्हें भारतीय किसानों के जीवन में समस्याएं पैदा करने के लिए दोषी ठहराया।

इससे पहले, पाकिस्तान के सिख नेता बिशन सिंह, पाकिस्तान सिख गुरुद्वारा प्रबंधक समिति के पूर्व अध्यक्ष, ने सिख आतंकियों और कट्टरपंथियों को जम्मू-कश्मीर में इस्लामी चरमपंथियों से हाथ मिलाने और भारत सरकार के खिलाफ आंदोलन शुरू करने के लिए उकसाया था।

–आईएएनएस

वीएवी-एसकेपी

विज्ञापन