Breaking News

पेट्रोल की बढ़ रही कीमतों को लेकर भाजपा को विपक्षी दलों ने घेरा

लखनऊ 23 फरवरी (आईएएनएस)। पेट्रोल के बढ़ रहे दामों को लेकर विपक्षी दलों ने भारतीय जनता पार्टी पर निशाना साधा है। बहुजन समाज पार्टी तथा कांग्रेस के साथ समाजवादी पार्टी के शीर्ष नेताओं को सरकार को घेरा है।

बहुजन समाज पार्टी की अध्यक्ष मायावती के साथ कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने पेट्रोल व डीजल की बढ़ती कीमतों को लेकर विरोध में ट्वीट किया है। सपा मुखिया अखिलेश यादव ने भी भाजपा सरकार पर निशाना साधा।

पेट्रोल व डीजल की लगातार बढ़ती कीमत को लेकर बसपा मुखिया ने मंगलवार को दो ट्वीट किए। उन्होंने लिखा कि, देश में पेट्रोल, डीजल व रसोई गैस जैसी जरूरी वस्तुओं की कीमतों में अनावश्यक ही अनवरत वृद्घि करके कोरोना प्रकोप, बेरोजगारी व महंगाई आदि से त्रस्त जनता को सताना सर्वथा गलत व अनुचित है। इस जानलेवा कर वृद्घि के माध्यम से जनकल्याण के लिए धन जुटाए जाने का सरकार का तर्क कतई उचित नहीं है।

कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने भी महंगाई को लेकर ट्वीट किया है। उन्होंने लिखा कि, आपदा आपकी, अवसर सरकार का। पेट्रोल-डीजल-गैस-ट्रेन किराया महंगा। मध्यवर्ग को बुरा फंसाया। लूट ने तोड़ी जुमलों की माया। जनता बेरोजगारी, महंगाई से त्रस्त है। टैक्स की मनमानी वृद्घि हो रही है।

Advertisements

समाजवादी पार्टी के अध्यक्ष और उत्तर प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने भी पेट्रोल व डीजल के साथ रसोई गैस सिलेंडर की बढ़ती कीमतों को लेकर सरकार पर तंज कसा है।

अखिलेश ने ट्वीट में लिखा कि, आमदनी घट रही है, तनख्वाह कट रही है। खायें क्या, बचाएं क्या।

ज्ञात हो कि लखनऊ में मंगलवार को पेट्रोल की कीमत 27 पैसे बढ़ी है। इसके साथ ही डीजल की कीमत में 35 पैसे का इजाफा हुआ है। लखनऊ में अब पेट्रोल की कीमत 89.09 रुपया प्रति लीटर है, जबकि डीजल 81.65 रुपए प्रति लीटर मिलेगा। इसी तरह वाराणसी में भी पेट्रोल के दाम आज फिर बढ़े हैं। वाराणसी में पेट्रोल के दाम 27 पैसे बढ़े हैं। जिसके कारण यहां पेट्रोल 89 रुपए 64 पैसे में एक लीटर मिलेगा।

उत्तर प्रदेश पेट्रोलियम ट्रेडर्स एसोसिएशन के अध्यक्ष रंजीत कुमार ने बताया कि, बीते एक माह से लगातार पेट्रोल और डीजल के दामों में बढ़ोतरी हो रही है। बीते 23 जनवरी को पेट्रोल की कीमत 85.09 रुपये थी। जो आज करीब चार रूपये बढ़ गयी है। इसी प्रकार एक माह के अंदर डीजल में पांच रुपये 75 पैसे की बढ़ोतरी दर्ज की गयी है। तेल के दाम बढ़ने से हर चीज पर फर्क पड़ेगा। मंहगाई और बढ़ने की संभावना ज्यादा है।

देश भर में पेट्रोल-डीजल के बढ़ते दामों को लेकर लोगों की नाराजगी साफ नजर आने लगी है। सोशल मीडिया पर मीम्स बनाए जा रहे हैं, जिसमें वर्तमान केंद्र सरकार पर तंज कसा जा रहा है। वहीं, इन सबसे बेखबर पेट्रोल-डीजल के बढ़ते दामों में सरकार की तरफ से कोई राहत मिलने के संकेत नहीं नजर आ रहे हैं। लखनऊ में भी हर रोज लगभग 30 पैसे प्रतिदिन के हिसाब से दाम बढ़ रहे हैं।

–आईएएनएस

विकेटी/एएनएम

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *