बरसात आते ही झड़ने लगते हैं बाल तो ये 5 आयुर्वेदिक उपाय तुरंत दिलाएंगे राहत

99

हेल्थ कार्नर :-   लगातार झड़ते बालों से अगर आप भी टेंशन में रहते हैं तो आयुर्वेद में मौजूद इस प्रभावी और आसान उपचार को अपनाएं।आयुर्वेद में कई ऐसी हर्बल चीजें मौजूद हैं जिनके इस्तेमाल से बालों का झड़ना कम किया जा सकता है। जानिए, आयुर्वेद के आधार पर ऐसे ही 5 उपाय जो बालों का झड़ना कम करने में बेहद मददगार हैं।

बरसात आते ही झड़ने लगते हैं बाल तो ये 5 आयुर्वेदिक उपाय तुरंत दिलाएंगे राहत

भृंगराज 
मजबूत और घने बालों के लिए आयुर्वेद में भृंगराज का काफी महत्व माना गया है। भृंगराज तेल न सिर्फ गंजापन दूर करता है बल्कि समय से पहले बालों को सफेद होने से भी बचाता है।

ब्राह्मी 
ब्राह्मी और दही का पैक बनाकर बालों पर लगाने से बालों का झड़ना कम होता है। ब्राह्मी के तेल से नियमित मसाज करने पर भी बाल घने होते हैं।

आंवला
आंवला में विटामिन सी और एंटीऑक्सीडेंट्स भरपूर मात्रा में हैं जो बाल बढ़ने में मदद करते हैं। आंवले को हिना, ब्राह्मी पाउडर व दही में मिलाकर पैक बनाएं और बालों पर लगाएं।

नीम
नीम के इस्तेमाल से न केवल बाल घने होते हैं बल्कि रूसी व जूएं जैसी समस्याएं भी दूर होती हैं। नीम का पाउडर तैयार कर लें। इसे दही या नारियल तेल में मिलाकर बालों की जड़ तक मसाज करें।

रीठा
रीठा के इस्तेमाल से बालों को काला और घना बनाए रखने में मदद मिलती है। रीठा पाउडर तेल में मिलाकर सिर की मसाज करने से बाल झड़ना रुक सकते हैं।