बिहार विधानसभा में धान अधिप्राप्ति की तिथि आगे बढ़ाने को लेकर विपक्ष का हंगामा, राजद का वॉकआउट

0


पटना, 23 फरवरी (आईएएनएस)। बिहार विधानमंडल के बजट सत्र में विपक्ष सरकार को घेरने के लिए कोई भी मौका हाथ से नहीं देना चाह रहा है। मंगलवार को भी विपक्षी सदस्यों ने धान खरीद की तिथि बढ़ाने को लेकर सदन के बाहर और सदन के अंदर जमकर हंगामा किया। विपक्ष के नेता तेजस्वी यादव ने तो यहां तक कहा कि सरकार किसानों ने एमएसपी धान खरीदना नहीं चाहती है।

विधानसभा की कार्यवाही प्रारंभ होने के पूर्व ही सदन के बाहर राजद, कांग्रेस, भाकपा माले सहित अन्य विपक्षी दल के विधायकों ने विभिन्न मुद्दो को लेकर प्रदर्शन किया।

विधानसभा की कार्यवाही प्रारंभ होने के बाद सभी विपक्षी सदस्यों ने धान खरीद की तारीख बढ़ाने का मुद्दा जोरशोर से उठाया। राजद के विधायक सुधाकर सिंह ने मुद्दा उठाते हुए धान खरीद की तारीख 25 मार्च तक करने की मांग की।

धान खरीद की तारीख बढ़ाए जाने की मांग को लेकर विपक्ष ने जमकर हंगामा किया। इस पर सरकार के जवाब से नाराज राजद विधायकों ने सदन से वॉक आउट भी कर दिया।

इस बीच कृषि मंत्री अमरेंद्र प्रताप सिंह ने दावा किया कि बिहार में 21 फरवरी तक 35.59 लाख मीट्रिक टन से अधिक की खरीददारी हुई है। उन्होंने कहा कि यह अब तक की सबसे ज्यादा खरीद है। लिहाजा अब धान खरीद की तारीख बढ़ाए जाने की जरूरत नहीं है। उन्होंने कहा कि अब कोई भी किसान धान बेचने के लिए नहीं बचा है। अब तिथि बढ़ाए जाने पर लाभ मिलर और बिचैलियों को फायदा पहुंचेगा।

इधर, विपक्ष के नेता तेजस्वी यादव ने कहा कि सरकार अब और धान नहीं खरीद सकती, इसलिए यह फैसला लिया गया है। इस मामले में सरकार का रवैया ठीक नहीं है। मामले में सरकार के जवाब से असंतुष्ट विपक्षी विधायक सदन से बाहर चले गए। बाहर पत्रकारों से चर्चा करते हुए उन्होंने कहा कि सरकार किसान विरोधी काम कर रही है। उन्होंने कहा कि सरकार किसानों का धान नहीं खरीद कर रही है।

–आईएएनएस

एमएनपी/एएनएम

विज्ञापन