बॉडी कटिंग के दौरान की जानें वाली गलतियों के बारे में जाने अभी आप

141

हेल्थ कार्नर :-    हर कोई बॉडी कटिंग की इच्छा रखता है, जो प्रत्येक मांसपेशी समूह को अलग करता है। जो लोग खुद को फिट रखना चाहते हैं वो बॉडी कटिंग के लिए वर्कआउट का अभ्यास करते हैं। बॉडी कटिंग आपके लुक्स को प्रभावित करती है। इसके लिए लोग कई प्रकार के अभ्यास करते हैं जैसे- कैलोरी के सेवन को कम करना, लाइट वेट एक्सरसाइज का अभ्यास करना या फिर प्रोटीन के सेवन को बढ़ाना। लेकिन कई लोग ऐसे होते हैं जो बॉडी कटिंग करने में असफल हो जाते हैं। इसका कारण ये हो सकता है कि लोग बॉडी कटिंग के दौरान कुछ गलतियां करते हैं जो उन्हें सही परिणाम प्राप्त नहीं करने देते हैं। इसलिए उन गलतियों के बारे में पता होना जरूरी होता है ताकि आपकी मांसपेशियों में विकास हो सके।

बॉडी कटिंग के दौरान की जानें वाली गलतियों के बारे में जाने अभी आप

फिटनेस से जुड़ी आदतें जिनके कारण वर्कआउट करने में परेशानी होती है]बॉडी कटिंग करते वक्त लोग कौन सी गलतियां कर देते हैं

  • जल्दी कैलोरी कम करना
  • कट्स के लिए अधिक रेप्स करना
  • कार्ब्स का सेवन कम कर देना
  • चीट मील्स का समय निर्धारित नहीं करना
  • प्रोटीन पर्याप्त मात्रा में ना लेना

जल्दी कैलोरी कम करना
कटिंग के लिए जल्दी कैलोरी कम करना बहुत आम गलतियों में से एक है। अपने आहार से कैलोरी के सेवन को कम कर देना मांसपेशियों की कमी का कारण बनता है और आपके मेटाबॉलिज्म को भी कम करता है।   वजन बढ़ाने में मदद करते हैं हाई कैलोरी फूड्स]

कट्स के लिए अधिक रेप्स करना

रेप्स का अधिक अभ्यास ना करें

वर्कआउट के दौरान अधिक रेप्स करना गलत नहीं होता है। लेकिन, कुछ लोग कटिंग करने के लिए अधिक रेप्स करते हैं जो गलत होता है। यदि आप मसल्स कट्स करना चाहते हैं तो फैट्स को कम करने पर ध्यान दें।

कार्ब्स का सेवन कम कर देना
कार्ब्स को कम करने से मांसपेशियों में कमी हो सकती है क्योंकि वे शरीर की ऊर्जा का स्रोत होते हैं। कार्ब्स के सेवन को कम करना चाहिए लेकिन सही मात्रा में।

चीट मील्स का समय निर्धारित नहीं करना
बॉडी कटिंग के लिए चीट मील्स आवश्यक होते हैं। चीट मील्स आपके मेटाबॉलिज्म को सही रखती है। लेकिन, आपको सही समय पर और सही मात्रा में चीट मील्स का पालन करना चाहिए और उनमें पर्याप्त मात्रा में पोषक तत्व मौजूद होने चाहिए।

प्रोटीन पर्याप्त मात्रा में ना लेना
कैलोरी डाइट के दौरान कई लोग प्रोटीन के सेवन को कम कर देते हैं। कटिंग फेज के दौरान आपको इंटेंस वर्कआउट करने की आवश्यकता होती है और आपके शरीर को पर्याप्त मात्रा में प्रोटीन का सेवन करना चाहिए। रोजाना 1 ग्राम प्रोटीन का सेवन करना चाहिए।