भूलकर भी छठ पूजा के समय ना करें ये गलतियां, वरना रुठ जाएंगी छठी मैैय्या

62

सूर्य उपासना व संतान प्राप्ति के लिए किया जानें वाल छठ पर्व हिंदू धर्म में मनाए जाने वाले पर्वों में से एक महत्वपूर्ण पर्व है। यह पर्व चार दिनों तक चलता है। नहाय-खाय के साथ शुरु हुई छठ पर्व का आज दूसरा दिन है। वहीं छठ पर्व के आखिरी दिन सर्य की कृपा पाने के लिए उनकी उपासना की जाती है और व्रती महिलाएं संतान प्राप्ति के लिए यह व्रत रखती हैं। कई लोग अपनी मनोकामनाओं की पूर्ति के लिए भी इस दिन व्रत रखते हैं। लेकिन पूजा व उपवास के दिन कुछ नियमों का पालन करना जरुरी होता है, वैसे तो हर व्रत व पर्व के अलग नियम होते हैं। इसी के साथ छठ पूजा का पूर्ण फल प्राप्त करने के लिए भी कुछ नियम बताए गए हैं, तो आइए जानते हैं कि छठ पूजा में किन बातों को जरूर ध्यान में रखना चाहिए।

भूलकर भी छठ पूजा के समय ना करें ये गलतियां, वरना रुठ जाएंगी छठी मैैय्या

छठ पर्व में इन बातों का रखें विशेष ध्यान

1. छठ पर्व के लिए प्रसाद बनाते समय इस बात पर विशेष ध्यान रखें की प्रसाद पूरी साफ-सफाई के साथ बनाएं।
2. सूर्यनारायण को चांदी, स्टील, ग्लास या प्लास्टिक के बर्तन से अर्घ्य ना दें।
3. छठ पूजा व व्रत के दौरान मांसाहार, शराब, धूम्रपान का सेवन नहीं करना चाहिए।
4. छठ का व्रत रखने वाली महिलाओं को ध्यान रखना चाहिए की वे बिसतर पर ना सोएं।
5. छठ पूजा में व्रत रख रहे लोगों को अपशब्दों और अभद्र भाषा का बिल्कुल इस्तेमाल नहीं करना चाहिए।
6. पूजा के दौरान हर किसी को साफ-सुथरे हो सके तो कोरे (नए) कपड़े पहनें।
7. छठ पूजा के दौरान सात्विक भोजन करें, लहसुन-प्याज के उपयोग ना करें।
8. भोजन ग्रहण करने से पहले सूर्य देवता को अर्घ्य जरूर देना चाहिए।
9. प्रसाद बनाते वक्त भी खाना नहीं खाना चाहिए और नमक इत्यादि को ना छुएं।
10. छठ पूजा का प्रसाद बच्चों को जूठा ना करने दें, जब तक छठ पर्व संपन्न ना हो जाए।