Breaking News

मोदी की तस्वीर बनाने वाले दुबई के बच्चे को मिला पीएम का प्रशंसा पत्र

दुबई, 22 फरवरी (आईएएनएस)। दुबई में रहने वाले केरल के 14-वर्षीय सरन शशिकुमार ने गणतंत्र दिवस के अवसर पर भारतीय प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को उपहार स्वरूप देने के लिए उनका छह-स्तरीय स्टैंसिल चित्र बनाया था। सरन को अब प्रधानमंत्री की ओर से एक प्रशंसा पत्र प्राप्त हुआ है, जिसमें कहा गया है कि यह चित्र राष्ट्र के प्रति उनके प्यार और स्नेह को दर्शाता है।

जनवरी में गल्फ न्यूज ने इस बाबत एक रिपोर्ट भी प्रकाशित की थी, जिसमें लिखा गया गया था कि न्यू इंडियन मॉडल स्कूल के नौवीं कक्षा के छात्र सरन शशिकुमार ने 26 जनवरी को भारत के गणतंत्र दिवस के अवसर पर मोदी को भेंट करने के लिए छह-स्तरीय स्टैंसिल चित्र बनाया।

90 सेमी गुणा 90 सेमी आकार वाले इस चित्र को जनवरी में संयुक्त अरब अमीरात की यात्रा के दौरान भारत के विदेश राज्य मंत्री और संसदीय मामलों के मंत्री वी. मुरलीधरन को सौंप दिया गया था, ताकि इसे प्रधानमंत्री मोदी को भेंट किया जा सके।

इस चित्र को प्राप्त करने के बाद मोदी ने सरन को एक पत्र भेजा, जिसमें उन्होंने धन्यवाद दिया और उनकी रचनात्मकता की सराहना की और उन्हें कला और शैक्षिक उत्कृष्टता प्राप्त करने के लिए प्रोत्साहित किया।

सरन के पिता शशिकुमार जी. ने गल्फ न्यूज को बताया कि प्रधानमंत्री कार्यालय ने गुरुवार को इस प्रशंसा-पत्र की स्कैन कॉपी ईमेल की थी। पत्र में मोदी ने सरन द्वारा भेजे गए सुंदर चित्र के लिए आभार जताया है और सुंदर रचनात्मक कृति भेजने के लिए हार्दिक आभार ज्ञापित किया है।

पत्र में कहा गया है कि कला हमारे अंतरतम विचारों और भावनाओं को व्यक्त करने और हमारी कल्पना को रचनात्मकता से जोड़ने का एक प्रभावी माध्यम है। आपके द्वारा उकेरी गई पेंटिंग कला के प्रति आपकी प्रतिबद्धता और समर्पण को दर्शाती है। साथ ही साथ राष्ट्र के प्रति आपके प्यार और स्नेह को भी प्रतिबिंबित करती है।

मोदी ने अपने हस्ताक्षर के साथ पत्र का समापन करने से पहले लिखा कि मुझे यकीन है कि आप अपने कलात्मक कौशल को आने वाले वर्षों में उत्कृष्टता के उच्च स्तर तक ले जाएंगे। आप इसी तरह सुंदर चित्र बनाना जारी रखें और अकादमिक क्षेत्र में भी उत्कृष्टता प्राप्त करें। एक उज्‍जवल और सफल भविष्य के लिए शुभकामनाएं।

सरन ने कहा कि वह और उनका परिवार शुक्रवार को ईमेल प्राप्त होने के बाद काफी खुश है। भारतीय प्रधानमंत्री का बहुत बड़ा प्रशंसक होने के नाते मैं इसे बहुत बड़ी उपलब्धि मानता हूं।

–आईएएनएस

एसआरएस/एएनएम

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *