ये नेचुरल फाइटर करते है प्रदूषण का असर काम , जाने अभी

397

लाइव हिंदी खबर (हेल्थ कार्नर ) :-  शहराें में बढ़ता प्रदूषण आज हमारी सेहत के लिए नुकसानदायक हाे चुका है। प्रदूषण बढ़ने का मुख्य कारण है फैक्ट्री-कारखाने, गाडि़याें का धुआं है। धुएं में मौजूद कण और रसायन सीधे शरीर में जाकर अंगों को नुकसान पहुंचा रहे हैं। जानें डाइट में किन चीजों को शामिल कर इनसे बचाव किया जा सकता है-

प्रदूषण का असर कम करते हैं ये नेचुरल फाइटर

फलों और सब्जियों में पाए जाने वाले एंटीऑक्सीडेंट्स शरीर की रोगों से लड़ने की क्षमता बढ़ाते हैं। ये जहरीली गैसों के खतरों से बचाने के साथ कैंसर की वजह बनने वाले फ्री-रेडिकल्स से भी बचाता है। साथ ही ओमेगा-थ्री, बीटा कैरोटिन व विटमिन-ई भी फायदेमंद है।

विटामिन-सी :
यह एक अच्छा एंटी-ऑक्सीडेंट है जो शरीर में विटामिन-ई बनाने में मदद करता है। नींबू, संतरा, आंवला, अमरूद, धनिया पत्ती, चौलाई का साग, गोभी, साग आदि में यह पाया जाता है।

ओमेगा-थ्री फैटी एसिड : यह हृदय रोग व डायबिटीज से बचाने, हार्मोंस को बैलेंस कर प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाने के साथ विटामिन-डी बनाता है। अखरोट, बादाम, मेथीदाना, सरसों, अलसी से इसकी पूर्ति कर सकते हैं।

Delhi Pollution 2019 Report Delhi: slow winds increase air pollution in Delhi and NCR

विटामिन-ई : यह प्रदूषण के कारण शरीर की क्षतिग्रस्त कोशिकाओं को रिपेयर करता है। बादाम, मिर्च, सरसों तेल, लौंग आदि में यह भरपूर मात्रा में पाया जाता है।

बीटा कैरोटिन : यह शरीर में होने वाली सूजन से बचाता है। हरी पत्तेदार सब्जियों और लाल व पीले फलों जैसे गाजर, चौलाई, धनिया, मेथी, कद्दू, पालक, मूली, अमरूद आदि में पाया जाता है।