रोज के खाने में जरूर होने चाहिए ये 5 पौष्टिक आहार, हमेशा रहेंगे स्वस्थ

156

हेल्थ कार्नर :-   हममें से ज्यादातर लोग अपनी सेहत के लिए प्रदूषण, मिलावट और अशुद्धता को दोष देते हैं। ये बात सच है कि ये सभी चीजें हमारी सेहत को प्रभावित करती हैं मगर सेहत को जो चीज सबसे ज्यादा प्रभावित करती है, वो है आपकी आदत। आजकल की भागदौड़ भरी जिंदगी में लोगों के पास न पौष्टिक चीजें खाने का समय है और न एक्सरसाइज करने का। ऐसे में ज्यादातर लोग बाजार के रेडीमेड फू्ड्स, जंक फूड्स और फास्ट फूड्स को अपनाकर अपनी सेहत खराब कर रहे हैं।

कुछ ऐसे आहार हैं, जिनमें शरीर के लिए सभी जरूरी पोषक तत्व होते हैं इसलिए अगर आप इन्हें अपने रोज के खाने में शामिल करते हैं, तो आपके शरीर को वो सभी विटामिन्स और मिनरल्स आसानी से मिल जाते हैं, जिनकी उसे जरूरत होती है।

रोज के खाने में जरूर होने चाहिए ये 5 पौष्टिक आहार, हमेशा रहेंगे स्वस्थ

हरी सब्जियां जरूर करें शामिल

हरी और रंगीन सब्जियों का सेवन करना बहुत फायदेमंद है। हरी सब्जियां विटामिन, प्रोटीन और मिनरल्‍स से भरपूर होती हैं। इसमें शरीर की प्रतिरोधी क्षमता को मजबूत करता है। आयरन की कमी से एनी‍मिया हो सकता है। हरी सब्जियों में आयरन प्रचुर मात्रा में पाया जाता है। हरी सब्जियां विटामिन ए और विटामिन बी कॉम्पलेक्स की कमी को दूर करने में सहायक है। हरी पत्तेदार सब्जियों को कच्चा खाना फायदेमंद हो सकता है, लेकिन उन्हें सफाई से धुलें ज़रूर। बहुत ज्यादा देर तक पकाई हुई हरी सब्जियों से विटामिन सी नष्ट हो जाता है, इसीलिए उन्हें बहुत देर तक पकाना उचित नहीं।

इसे भी पढ़ें:-

रोज पिएं दूध

दूध प्राकृतिक रूप से मिलने वाले कैल्शियम का प्रमुख स्रोत है। इसके अलावा दूध में प्रोटीन, मैग्नीशियम, फास्फोरस, जिंक और विटामिन बी जैसे कई पोषक उत्पाद पाए जाते हैं। विटामिन बी हड्डियों के निर्माण में मददगार होता है। इसके अलावा अनाज, मूंगफली और पत्तेदार सब्जियों से मिलने वाला कैल्शियम पूर्ण रूप से अवशोषित नहीं होता। दूध में ट्रीप्‍टोफन नामक अमीनो एसिड की मौजूदगी से नींद के हार्मोंन स्‍तर को बढ़ाने में मदद मिलती है। इसी कारण से रात को दूध पीने से अच्‍छी नींद आती है। दूध को कभी भी भोजन के साथ नहीं पीना चाहिये क्‍योंकि यह जल्‍द हजम नहीं हो पाता। इसे हमेशा अलग से गर्म करके पीना चाहिये।

एक कटोरी फल रोज

फल हमारी डेली डाइट को पूरा करने के लिए ज़रूरी हैं। इनमें विटामिन्स और मिनरल्स की भरपूर मात्रा होती है। नियमित तौर पर फल और सब्जियां खाना सेहत के लिए लाभकारी है। एक बार में कम से कम 80 ग्राम फल खाने की सलाह दी गई है। 80 ग्राम मतलब एक सेब या एक कटोरी सैलेड। फल खाने की जगह यदि उसका जूस पिया जाए तो कोई फायदा नहीं होता।

इसे भी पढ़ें:-

अंडे में भी जरूरी पोषण

अंडे में ढेर सारे पौष्टिक तत्व होते हैं इसलिए इसे खाने से शरीर को ढेर सारे विटामिन्स और प्रोटीन्स मिलते हैं। एक अंडे में लगभग 6 ग्राम प्रोटीन होता है साथ ही इसमें जियैक्सेंथिन और ल्यू्टिन नामक एंटीऑक्सीडेंट होते हैं जो कि अंडे की जर्दी में मौजूद होते हैं। इसमें विटामिन ई, विटामिन डी और विटामिन ए मौजूद होता है। अंडा खाना गर्भवती महिलाओं के लिए बेहद फायदेमंद साबित होता है।

दालें हैं प्रोटीन से भरपूर

दाल हमारे शरीर को प्रोटीन समेत कई जरूरी पोषण देती है। मूंग की दाल से पाचन समस्याएं समाप्त होती हैं और इसमें भरपूर फाइबर होने से आपका वजन भी कम होता है। अरहर की दाल से आप टाइप-2 डाइबिटीज, कैंसर, दिल की बीमारियों से बचे रह सकते हैं, साथ ही रीढ़ की हड्ड‍ी संबंधी समस्याएं भी समाप्त होती हैं। यह दिमाग के लिए भी फायदेमंद है। मसूर की दाल में कई एंटीऑक्सीडेंट होते हैं और उड़द दाल का प्रयोग आपको जवां बनाए रखता है। चने की दाल से आप एनीमिया, पीलिया, कब्ज व बालों की समस्याओं से बच सकते हैं। इसमें फाइबर की मात्रा भरपूर होती है, जो आपके शरीर में कोलेस्ट्रॉल की मात्रा को कम करती है।