लड़किया शर्म करना देंगी छोड़, फिल्म ‘पैडमैन’ के आते ही सैनिटरी पैड्स में आए ऐसे बड़े बदलाव जरूर जाने

0


‘नॉट सो सीरियस’ के नाम से अपना फैशन लेबल उतारने वाली फैशन डिजाइनर पल्लवी मोहन एक बार फिर सुर्खियों में। इस बार वह सैनिटरी नैपकिन को डिजाइनर ट्विस्ट देने के लिए चर्चा में हैं। पल्लवी मोहन जल्द मार्केट में ऐसे पैड्स उतारने जा रही हैं जिसके पैकेट्स पर गंभीर संदेश लिखे गए हैं, वह भी मजेदार तरीके से।

इसे अक्षय कुमार की फिल्म ‘पैडमैन’ का इफेक्ट समझ लीजिए कि पल्लवी मोहन भी पीरियड से जुड़े मिथकों को तोड़ने की मुहिम में जुड़ चुकी हैं। उनके तैयार किए गए सैनिटरी नैपकिन के पैकेट पर इस तरह के संदेश लिखे हुए हैं-

-से इट लाउड. पीरियड
-डोंट हाइड इट.पीरियड
-इट्स जस्ट ब्लड. पीरियड
-आई हैव ओवरीज. पीरियड
-डोंट सिट एट होम. पीरियड

(गौरतलब है कि अंग्रेजी में ‘पीरियड’ शब्द का इस्तेमाल तब भी किया जाता है जब किसी बहस या विवाद को समाप्त करना होता है)

 

3 of 4इन सैनिटरी नैपकिन को बनाने के लिए वह राजस्थान के अजमेर में फैक्ट्री शुरू करेंगी जहां स्थानीय महिलाएं बायो-डिग्रेडेबल, सस्ती सैनिट्री नैपकिन्स बनाएंगी भी और वितरित भी करेंगी। इस प्रोजेक्ट के लिए फंड्स जुटाने के लिए पल्लवी मोहन ने डिजाइन एजेंसी NH1 से हाथ मिलाया है।

 

4 of 4पल्लवी मोहन ने अपने कैंपेन का नाम “Don’t Hide it. Period” रखा है और यह संदेश देने की कोशिश की है कि पीरियड या माहवारी कोई बुरा शब्द नहीं है बल्कि महिलाओं से जुड़ी एक बायोलॉजिकल क्रिया है।

विज्ञापन