शख्स को न जानते, न दिया न्योता : हामिद अंसारी कार्यालय (लीड-1)

9


नई दिल्ली, 15 जुलाई (आईएएनएस)। देश के पूर्व उपराष्ट्रपति हामिद अंसारी पर लगे आरोपों पर एक तरफ भाजपा हमलावार हैं तो वहीं हामिद अंसारी के कार्यलय ने सफाई जारी कर फिर अपने पुराने बयान पर कायम होने की बात कही है। कार्यालय ने साफ किया है कि न तो वह पाकिस्तानी पत्रकार नुसरत मिर्जा को जानते हैं और न ही उन्होंने किसी कॉन्फ्रेंस में न्योता दिया है।

इससे पहले भाजपा की ओर से कांग्रेस और हामिद अंसारी पर निशाना साधा हैं। भाजपा प्रवक्ता गौरव भाटिया ने कहा, हामिद अंसारी ने गलत तथ्य रखे हैं। संवैधानिक पदों पर बैठे व्यक्ति की जिम्मेदारी भी बड़ी होती है। किसी भी व्यक्ति से ऊपर हमारा देश भारत है और भारत के नागरिकों का हित है।

उन्होंने सोनिया गांधी पर भी निशाना साधते हुए कहा कि, कांग्रेस का तार पाकिस्तान से जुड़ता है और करंट वहीं से आता है।

पाकिस्तान के जाने-माने पत्रकार नुसरत मिर्जा ने एक इंटरव्यू सनसनीखेज दावा सामने आने के बाद हामिद अंसारी ने चुप्पी तोड़ते हुए कहा था कि, मैंने न तो उसे कभी बुलाया है और न ही उससे मुलाकात की है। मेरे खिलाफ मीडिया के एक सेक्शन में झूठ का पुलिंदा चलाया जा रहा है। इसमें बीजेपी के आधिकारिक प्रवक्ता शामिल हैं। विदेश मेहमानों को उप राष्ट्रपति द्वारा बुलाने की प्रक्रिया सरकार के सलाह पर की जाती है और इसमें मुख्य रूप से विदेश मंत्रालय शामिल होता है।

दरअसल पाकिस्तानी पत्रकार ने दावा किया था कि कांग्रेस के शासनकाल में कई बार भारत आकर पाकिस्तानी खुफिया एजेंसी आइएसआइ के लिए कई अहम जानकारियां जुटाई थीं। उन्हें तत्कालीन उपराष्ट्रपति हामिद अंसारी के कार्यकाल में कई बार भारत आने का न्योता दिया गया।

–आईएएनएस

एमएसके/एएनएम