हल्दी और काली मिर्च एक साथ लेना है खास, जानें क्यों

304

हेल्थ कार्नर :-   भारत में सभी घरों में मां और दादी-नानी ने कई बार अपने बच्चों को जबरन एक चीज पिलाई है वो है हल्दी वाला दूध। भले ही ये स्वाद में कितना भी खराब लगे लेकिन इसमें छिपे गुण शरीर को कई बीमारियों से बचाते और उन्हें ठीक करते हैं। इसे दुनियाभर में गोल्डन मिल्क के नाम से जाना जाता है।

इस गोल्डन मिल्क के कई फायदे हैं। इसे सालों से इसके दवा वाले और एंटिसेप्टिक गुणों के कारण घरों में इस्तेमाल किया जाता है। हल्दी को पूरे एशिया में बीमारी से निपटने के लिए कई नुस्खों में इस्तेमाल करते हैं। हर घर में खाना बनाने के लिए हल्दी का इस्तेमाल होता है। इसकी गर्माहट, इसका रंग और खूशबू इसे हर खाने का एक अहम हिस्सा बनाती है।

हल्दी और काली मिर्च एक साथ लेना है खास, जानें क्यों

दरअसल हल्दी में करक्यूमिन नामक एक तत्व मौजूद होता है। हाल ही में हुए शोध से पता चला है कि करक्यूमिन नामक ये तत्व कई तरह की बीमारियों से बचाटा है। इस तत्व से आर्थेराइटिस, दिल की बीमारी, डिमेंशिया और कई तरह के कैंसर ठीक होते हैं। लेकिन समस्या ये है कि करक्यूमिन खुद से शरीर में खपता नहीं है।

इसको शरीर में पहुंचाने के लिए काली मिर्च बेहद कारगर है। काली मिर्च में पीपरिन नामक तत्व होता है जो हल्दी के साथ मिलकर शरीर में करक्यूमिन के काम को बढ़ाता है। काली मिर्च के साथ हल्दी मिलाकर लेने से करक्यूमिन 2000 प्रतिशत ज्यादा तेजी से शरीर को फायदा करता है। शोध में कहा गया है कि 20 मिग्राम पीपरिन 2 ग्राम करक्यूमिन के साथ मिलकर बहुत फायदा करता है।

जानें हल्दी और काली मिर्च को मिलाकर खाने से क्या फायदे होते हैं।

दर्द से छुटकारा: हल्दी में मौजूद तत्व शरीर में दर्द पैदा करने वाले कणों को कम कर देते हैं। ये musculo-skeletal चोट के कारण होने वाले दर्द पर सबसे ज्यादा असर करते हैं।

कम मोटापा: गर्म पानी में हल्दी, काली मिर्च और अदरक मिलाकर रोज सुबह पीने से शरीर का मेटाबॉलिज्म बढ़ता है। इससे शरीर में मोटापा कम होता है। इस पानी में नींबू का रस मिलाकर भी पिया जा सकता है।

सूजन में कमी: हल्दी और काली मिर्च आर्थेराइटिस ठीक करने में मदद करती है। भारत में प्रचलित आयुर्वेद में कई बीमारियों को ठीक करने के लिए हल्दी और काली मिर्च का इस्तेमाल किया जाता है। ये जोड़ों में सूजन कम करता है जिससे आर्थेराइटिस ठीक होने में मदद मिलती है।

कैंसर सेल होते हैं कम: हल्दी और काली मिर्च को मिलाकर खाने से शरीर में मौजूद कैंसर सेल से भी लड़ने में मदद मिलती है। ये शरीर में मौजूद कैंसर सेल को मारता है। इसका सबसे ज्यादा असर ल्यूकेमिया, गैस्ट्रिक और कोलोन और ब्रेस्ट कैंसर सेल पर होता है।

पाचन में मदद: हल्दी और काली मिर्च एक साथ आंतों में मौजूद पाचन क्रिया बढ़ाने वाले एंजाइम को बढ़ाती है। इससे केवल खाना पचाने में ही मदद नहीं मिलती बल्कि इससे आंतों की सूजन भी कम होती है।