हाथों की ओर देखते हुए सुबह करें इस मंत्र का एक बार जाप, होगा लाभ

हाथों की ओर देखते हुए सुबह उठते ही  करें इस मंत्र का एक बार जाप

हाथों की ओर देखते हुए सुबह उठते ही  करें इस मंत्र का एक बार जाप लाइव हिंदी खबर :-हिन्दू धर्म के मतानुसार यदि मनुष्य शास्त्रीय नियमों का पालन करे, शास्त्रों में दी गई जानकारी को अपने जीवन पर अमल करे तो उसका जीवन चिंतामुक्त होगा। शास्त्रों में दर्ज उपाय ना केवल मनुष्य जीवन को सहज बनाते हैं, साथ ही भविष्य सुधारने में भी मददगार साबित होते हैं। तो क्यों ना रोजाना अपने दिन की शुरुआत एक शास्त्रीय नियम से की जाए ताकि हमारा हर दिन सुखों से भरा हो।

सुबह समय से उठना, स्नान करना, पूजा-पाठ आदि करके बड़ों का आशीर्वाद लेना यह हिन्दू शास्त्र हमें सिखाते हैं। उप्शाब्दों का प्रयोग ना करना, किसी का बुरा ना सोचना, ऐसी अच्छी आदतों से हमारा पूरा दिन सकारात्मक भाव के साथ बीतता है। लेकिन यह सकारात्मकता हमारे बीच बनी रहे इसके लिए शास्त्रों में दिया गया एक उपाय हम सुबह उठते ही कर सकते हैं।

उपाय के अनुसार सुबह उठने के बाद अपने बिस्तर पर बैठ जाएं, अपने दोनों हाथ सामने लाकर मिलाएं और फिर आंखें खोलकर हाथों के दर्शन करें। ऐसा करने के बाद इस मंत्र का एक बार जाप कर लें – “कराग्रे वसति लक्ष्मीः, कर मध्ये सरस्वती। करमूले तू ब्रह्मा, प्रभाते कर दर्शनम्‌‌।।”

अर्थात् हाथ की हथेलियों के अग्रभाग में मां लक्ष्मी, मध्य में विद्या की देवी सरस्वती और मूल भाग में सृष्टि रचयिता भगवान ब्रह्मा का निवास है। मैं अपनी हथेलियों में इनका दर्शन करता हूं। ऐसी मान्यता है कि सुबह-सुबह यदि इन देवी देवताओं के दर्शन हो जाएं तो पूरा दिन शुभ होता है।

ध्यान रहे कि जब आप उपरोक्त मंत्र का उच्चारण कर रहे हों तब आप केवल अपनी हथेलियों की ओर ही देखें। आपको आंखें बंद भी नहीं करनी हैं। इस मंत्र का रोजाना एक बार उच्चारण आपको विभिन्न लाभ प्राप्त कराएगा। इस मंत्र के जाप से मां लक्ष्मी धन की कृपा करेंगी, मां सरस्वती से आपको ज्ञान और विद्या की प्राप्ति होगी और ब्रह्मा जी के आशीर्वाद से जीवन सफल होगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *