हाथ बांधकर दफनाई गई थी यह चुड़ैल, अवशेष को देखकर पुरातत्वविदों ने किया यह चौंकाने वाला खुलासा

337

लाइव हिंदी खबर :- समय-समय पर खुदाई के दौरान पुरातत्वविदों को कई तरह की चीजें मिली हैं। इस तरह की खुदाई से कई ऐसे अवशेष मिले हैं जिन्हें परीक्षण कर कई प्राचीन तथ्यों का पता लगाया गया है। एक बार इसी काम को करने के दौरान पुरातत्वविदों के हाथ इस बार कुछ ऐसा लगा जिसे देख वे हैरान रह गए।

हाथ बांधकर दफनाई गई थी यह चुड़ैल, अवशेष को देखकर पुरातत्वविदों ने किया यह चौंकाने वाला खुलासा

बता दें, खुदाई काम को करते-करते पुरातत्वविदों को 1600 साल पहले दफनाई गई एक चुड़ैल का अवशेष मिला। पूर्वी यूरपियन देश यूक्रेन रूढ़िवादी सोच के लिए पहले से ही मशहूर है, ऐसे में कथित चुड़ैल की कब्र का मिलना कोई आश्चर्य करने वाली बात नहीं है। बता दें, यह खोज मध्‍य उक्रेन के लेहेड्जाइन के एक गांव में की गई।

जब इस चुड़ैल की कब्र की खुदाई की गई तो पाया गया कि उस महिला का सिर नीचे की ओर था और उसका बायां हाथ भी पीछे की ओर से बंधा हुआ था। आज से करीब 1600 साल पहले लोग किसी को चुड़ैल समझकर इस तरह से दफनाते थे क्योंकि उनका ऐसा मानना था कि इससे चुड़ैल कभी वापिस नहीं आती है और ना ही किसी को परेशान करती है।

इस कब्र को देखकर पुरातत्‍वविदों का कहना है कि यह महिला उस जमाने में किसी अमीर आदमी की प्रेमिका रही होगी। उस दौरान संबंधों को लेकर लोगों ने उस पर जादुई शक्‍तियों के आरोप लगाए होंगें। कालाजादू करने के संदेह में ग्रामीणों में महिला के साथ अत्‍याचार की सभी सीमाएं लांघ दी और उसे जमीन में दफना दिया। हालांकि इस पूरे वाक्ये का पुरातत्‍वविदों ने महज अंदाजा लगाया।

अवशेष को देखकर उनका ऐसा भी मानना था कि जब इस महिला को दफनाया गया था तब इसकी उम्र 25 साल के आसपास रही होगी। ऐसा माना जाता है कि उस जमाने में कई पुरुष जवान महिलाओं पर खुद को अपने प्रेम जाल में फंसाने का आरोप लगाया करते थे।फलस्वरूप लड़कियों को तमाम अत्याचारों का सामना करना पड़ता था।इस कब्र से एक बात तो साफ है कि प्राचीन काल में भी महिलाओं पर अत्याचारों का सिलसिला जारी था।