गोवा के अस्पताल में भर्ती श्रीपद नाइक से मिले राजनाथ (लीड-2)

17


पणजी, 12 जनवरी (आईएएनएस)। रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने मंगलवार को रक्षा राज्यमंत्री श्रीपद नाइक से मुलाकात की, जिन्हें सोमवार देर रात कर्नाटक में एक सड़क दुर्घटना के बाद गोवा के एक अस्पताल में भर्ती कराया गया है।

सिंह ने गोवा मेडिकल कॉलेज परिसर में अपने रक्षा मंत्रालय के सहयोगी नाइक से मुलाकात की। उन्होंने राष्ट्रीय राजधानी के लिए रवाना होने से पहले, नाइक के स्वास्थ्य की जानकारी ली। सिंह ने रक्षा राज्यमंत्री की पत्नी विजया की मृत्यु पर शोक भी व्यक्त किया।

रक्षा मंत्री सिंह ने नाइक का इलाज कर रहे डॉक्टरों की टीम से मुलाकात के बाद अस्पताल परिसर में संवाददाताओं से कहा, डॉक्टरों के मुताबिक, उनकी हालत स्थिर है। उन्होंने कहा कि कोई खतरा नहीं है। अगर यहां उचित इलाज मुहैया कराया जा सकता है, तो उन्हें यहां इलाज दिया जाएगा। अगर जरूरत पड़ी तो उन्हें दिल्ली स्थानांतरित कर दिया जाएगा। सब डॉक्टरों पर निर्भर करता है।

सिंह ने यह भी कहा कि गोवा के अस्पताल के डॉक्टर राष्ट्रीय राजधानी में अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान (एम्स) के अपने समकक्षों के संपर्क में भी हैं।

Advertisements

इससे पहले मंगलवार को मुख्यमंत्री प्रमोद सावंत ने कहा कि रक्षा राज्यमंत्री श्रीपद नाइक की हालत मंगलवार तड़के दो ऑर्थोपेडिक ऑपरेशन के बाद अब स्थिर है और उनकी हालत में अब सुधार हो रहा है।

सावंत ने अस्पताल की कोरोनरी केयर यूनिट में नाइक से मिलने के तुरंत बाद संवाददाताओं से कहा, मैं भाऊ (नाइक) से मिला हूं। उनकी हालत अब स्थिर है। उन पर की गई दो आर्थोपेडिक सर्जरी सफल रहीं।

सावंत ने कहा, ऑपरेशन तड़के 2.30 बजे शुरू हुआ और लगभग 7 बजे तक चला। वह अब सिडेशन (दवाई देने के बाद शांत अवस्था) में है। उनकी हालत में सुधार हो रहा है।

दुर्घटना में नाइक की पत्नी विजया और उनके निजी सचिव दीपक घूमी ने दम तोड़ दिया, जबकि उनके ड्राइवर और एक निजी सुरक्षा अधिकारी को फिलहाल पणजी के पास गोवा मेडिकल कॉलेज में भर्ती कराया गया है।

मुख्यमंत्री ने कहा कि कर्नाटक के येल्लापुर में दुर्घटना स्थल से नाइक को सोमवार रात गोवा मेडिकल कॉलेज ले जाए जाने के कुछ घंटे बाद दो सर्जरी की गईं।

सोमवार रात प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने भी सावंत से बात की थी और उन्हें उत्तरी गोवा के सांसद और राज्य के पूर्व भाजपा अध्यक्ष नाइक के लिए सबसे अच्छा इलाज सुनिश्चित करने का निर्देश दिया।

–आईएएनएस

एकेके/एसजीके

विज्ञापन