नस्लीय टिप्पणियों के खिलाफ बोलने के लिए सिराज ने नए पैमाने तय किए : लॉयन

46


ब्रिस्बेन, 13 जनवरी (आईएएनएस)। आस्ट्रेलियाई ऑफ स्पिनर नाथन लॉयन ने नस्लीय टिप्पणी को बेहद खराब बताया है और अधिकारियों से इसके खिलाफ बैन लगाने तथा दर्शकों में से गलती करने वाले लोगों को सजा देने को कहा है। लॉयन सिडनी टेस्ट में भारतीय खिलाड़ियों पर हुई नस्लीय टिप्पणी को लेकर बोल रहे थे।

लॉयन ने बुधवार को कहा, किसी भी तरह की नस्लीय टिप्पणी या किसी भी तरह की अभद्र भाषा के लिए कोई जगह नहीं है। मुझे लगता है कि लोग सोचते हैं कि यह मजाक है लेकिन इसका असर दूसरी तरह से भी हो सकता है। क्रिकेट सभी के लिए है और इसके लिए कोई जगह नहीं है। यह बेहद खराब है।

भारतीय टीम के तेज गेंदबाज मोहम्मद सिराज पर सिडनी में खेले गए तीसरे टेस्ट मैच के चौथे दिन कुछ दर्शकों ने नस्लीय टिप्पणी की थी। सिराज ने तुरंत इसकी शिकायत की और भारतीय टीम ने भी इस मुद्दे पर शिकायत दर्ज कराई जिसके बाद सुरक्षा अधिकारियों ने छह दर्शकों को मैदान से बाहर कर दिया।

33 साल के ऑफ स्पिनर को लगता है कि सिराज ने जो किया उसने कई खिलाड़ियों को नस्लवाद के खिलाफ बोलने को प्रेरित किया।

Advertisements

उन्होंने कहा, सिराज का शिकायत करना दूसरे लोगों को प्रेरित कर सकता है। यह पूरी तरह से खिलाड़ी पर निर्भर है और इस पर कि वह इससे किस तरह से प्रभावित होते हैं। मैं उम्मीद करता हूं कि लोग आकर हमें देख सकते हैं और खिलाड़ियों पर नस्लीय टिप्पणियां न हों। जैसा मैंने कहा, क्रिकेट ऐसा खेल है जो सबके लिए है।

लॉयन ने कहा कि वह खुद इस तरह की चीजों का सामना कर चुके हैं।

उन्होंने कहा, मैंने भी इस तरह की चीजों का सामना किया है, इंग्लैंड और न्यूजीलैंड और दक्षिण अफ्रीका, और कहीं भी। इसलिए जाहिर सी बात है कि इसके लिए कोई जगह नहीं है। मुझे लगता है कि एक खिलाड़ी के तौर पर आप इसे रोक सकते हैं, लेकिन जो यह कर रहा है उसे हटाया जा सकता है। हमारे पास सुरक्षा अधिकारी हैं। इसके लिए बिल्कुल भी जगह नहीं हैं।

–आईएएनएस

एकेयू-एसकेपी

विज्ञापन