Breaking News

हैकर्स का ऑनलाइन शिक्षा पर हमला, साइबर बदमाशी के बढे मामले, अभिभावक इन बातों पर दें विशेष ध्यान

ऑनलाइन स्तरीय

लाइव हिंदी ख़बर:-ऑनलाइन शिक्षा में हैकर्स की साइबर बदमाशी ने माता-पिता और शिक्षकों के बीच सिरदर्द पैदा कर दिया है। हैकर कभी शिक्षकों को मस्ती के लिए गाली दे रहे हैं और कभी बच्चों के सामने बातें कर रहे हैं। उस बारे में शिकायतें महाराष्ट्र साइबर को आ रही हैं।

कोरोना ने राज्य में स्कूल और कॉलेज बंद कर दिए हैं। छात्रों को घर बैठे और लैपटॉप या स्मार्ट फोन से ऑनलाइन सीखने का सबक लेना है। घंटों तक बच्चों को स्मार्ट फोन या लैपटॉप के सामने बैठना पड़ता है। बच्चों को चिढ़ हो रही है क्योंकि उन्हें खेलने के लिए नहीं मिलता है।

हालाँकि हैकरों द्वारा साइबर मज़ाक उड़ाने के मामले हैं। ऑनलाइन पढ़ाई शुरू होते ही हैकर्स शिक्षकों का अपमान करते हैं। ऐसी स्थिति में स्कूल को बदनामी के डर से शिक्षक आगे नहीं आते हैं।

हाल ही में महाराष्ट्र साइबर ने राज्य के हेडमास्टर के लिए एक वेबिनार का आयोजन किया था। वह मुद्दा है। महाराष्ट्र साइबर ऐसी घटनाओं को रोकने के लिए निवारक उपायों की योजना बनाने के लिए काम कर रहा है। माता-पिता को उन ऐप के बारे में भी जानना होगा जो वे छात्रों के अध्ययन के लिए लेते हैं।

महाराष्ट्र साइबर अधीक्षक बालसिंह राजपूत ने कहा कि ऑनलाइन कक्षाओं के दौरान घृणित कार्य करने के लिए हैकर्स को निशाना बनाया जा रहा है। महाराष्ट्र साइबर ने निकटतम पुलिस स्टेशन से ऐसी किसी भी हरकत की रिपोर्ट करने की अपील की है।

बच्चे लिंक साझा नहीं करते हैं

ऑनलाइन कक्षाओं से ऊब चुके छात्र इन कक्षाओं के लिंक को अन्य लोगों के साथ साझा करते हैं। जैसे ही लिंक साझा किया जाता है, अन्य लोग यदि कोई छात्र अकेले दिखाई देता है, तो उसके साथ अश्लील टिप्पणी करें, अश्लील वीडियो भेजें और कभी-कभी शिक्षकों को गाली देने के बाद भाग जाएं।

आपका बेटा क्या करता है, वह किससे बात कर रहा है? माता-पिता को ध्यान देना चाहिए कि अध्ययन के बाद वे कितने समय तक ऑनलाइन हैं। माता-पिता को भी इंटरनेट का ज्ञान होना चाहिए। ताकि उन्हें पता रहे कि वेबसाइट पर जाकर उनका बच्चा क्या करता है।

-डॉ। राकेश कृपलानी, साइबर मनोचिकित्सक

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *