प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी: खबरदार, अगर विपक्ष ने पीएम मोदी की फोटो का किया इस्तेमाल

0
1

लाइव हिंदी ख़बर:- बिहार में विधानसभा चुनाव का बिगुल बज चुका है। सत्तारूढ़ नेशनल डेमोक्रेटिक अलायंस (एनडीए) ने मंगलवार को बिहार विधानसभा में सीटों के वितरण की घोषणा की है। इसमें बीजेपी संयुक्ता जनता दल (जेडीयू) की 122 और 121 सीटों पर अपनी किस्मत आजमाएगी।

इसके बाद भाजपा ने लोक जनशक्ति पार्टी सहित अन्य विपक्षी दलों के खिलाफ कड़ा रुख अपनाया, जो नीतीश के नेतृत्व पर नाराजगी व्यक्त करते हुए राजग से वापस ले लिया।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के एक पोस्टर को चुनाव प्रचार के लिए इस्तेमाल करने पर बीजेपी ने एनडीए के अलावा किसी भी विपक्षी दल के खिलाफ मामला दर्ज करने की धमकी दी है।

भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष संजय जायसवाल ने एक सवाल का जवाब देते हुए यह प्रतिक्रिया दी। इससे पहले उप-मुख्यमंत्री सुशील कुमार मोदी ने भाजपा-जद (यू) प्रेस कॉन्फ्रेंस के दौरान भी यही कहा था।

उन्होंने कहा था कि अगर कोई पार्टी प्रधानमंत्री मोदी या पार्टी के अन्य स्टार प्रचारकों के पोस्टर का इस्तेमाल करती पाई गई, तो इसकी सूचना चुनाव आयोग को दी जाएगी और उनके खिलाफ कार्रवाई की जाएगी।

बिहार भाजपा के कई असंतुष्ट लोग लोक जनशक्ति पार्टी (एलजेपी) में शामिल होने लगे हैं। इससे पहले भाजपा उपाध्यक्ष राजेंद्र सिंह लोजपा में शामिल हुए, उसके बाद पूर्व विधायक उषा विद्यार्थी शामिल हुईं। इसके बाद बिहार में भाजपा के चुनाव प्रभारी और महाराष्ट्र के पूर्व मुख्यमंत्री देवेंद्र फड़नवीस ने कड़ी चेतावनी दी कि पार्टी विरोधी गतिविधियों को बर्दाश्त नहीं किया जाएगा।

बीजेपी – जेडीयू ने सीटों का बंटवारा

एनडीए में शामिल प्रमुख दलों जेडीयू और भाजपा ने मंगलवार को आवंटन की घोषणा की। बिहार विधानसभा की 243 सीटों में से जेडीयू 122 सीटों पर और बीजेपी 121 सीटों पर चुनाव लड़ेगी। जदयू को आवंटित सात सीटें जीतनराम मांझी की हिंदुस्तानी आवाम मोर्चा (हम) को दी जाएंगी।

इसलिए नीतीश कुमार ने कहा कि भाजपा के हिस्से से सीटें देने के बारे में ‘विकासशील इन्सान पार्टी’ के साथ चर्चा चल रही है। नीतीश के नेतृत्व पर नाराजगी व्यक्त करते हुए लोक जनशक्ति पक्ष सामने आया है। हालांकि इस बैठक में बीजेपी ने स्पष्ट किया कि बिहार में नीतीश एनडीए के नेता हैं। इस बार लोक जनशक्ति पार्टी के अध्यक्ष चिराग पासवान पर निशाना साधते हुए, रामविलास पासवान के लिए मेरे मन में बहुत सम्मान है, मैं उनके स्वास्थ्य के लिए प्रार्थना करता हूं। क्या रामविलास पासवान जेडीयू की मदद के बिना राज्यसभा गए थे? बिहार में उनके केवल दो सदस्य हैं? यह सवाल नीतीश ने पूछा था।