बड़ी खबर: यहां भूमि विवाद को लेकर जिंदा जलाया गया पुजारी, इलाज के दौरान मर गया

0
12
:

लाइव हिंदी ख़बर:-राजस्थान के करौली जिले से एक चौंकाने वाली खबर सामने आ रही है। प्रारंभिक जानकारी उपलब्ध है कि भूमि विवाद में एक पुजारी को जिंदा जला दिया गया था। आरोपी ने उसके शरीर पर पेट्रोल डालकर पुजारी को जलाने की कोशिश की। नतीजतन पुजारी को गंभीर रूप से जलने के साथ अस्पताल में भर्ती कराया गया। इलाज के दौरान पीड़िता की मौत हो गई।

पुजारी को आय के स्रोत के रूप में मंदिर ट्रस्ट द्वारा 13 बीघा जमीन दी गई थी। गांव के पुजारी बाबू लाल वैष्णव जमीन के एक भूखंड पर अपना घर बनाना चाहते थे। मीणा समुदाय के कुछ सदस्यों ने इसका विरोध किया और भूमि को अपना दावा किया।

गाँव के कुछ वरिष्ठ सदस्यों ने पुरोहित के पक्ष में मतदान किया। उसके बाद पुजारी द्वारा बाजरा बोया गया, लेकिन आरोपी इस जगह पर अपनी झोपड़ी बनाने लगे। इसलिए एक बार फिर विवाद छिड़ गया।

पुलिस के अनुसार शिकायत में कहा गया है कि बुधवार को छह लोगों ने उन पर पेट्रोल फेंककर बाजरा की पौध से बचने की कोशिश की। घायल पुजारी ने कहा कि उनके शरीर पर पेट्रोल फेंककर आग भी लगाई गई। जले हुए पुजारी को जयपुर के एसएमएस अस्पताल में भर्ती कराया गया था। उन्होंने गुरुवार शाम को अंतिम सांस ली।

पुलिस के अनुसार हत्या का मामला दर्ज किया गया है। मुख्य आरोपी कैलाश मीणा को गिरफ्तार कर लिया गया है। अपनी मौत से पहले पुलिस को दिए जवाब में पुजारी ने कैलाश, शंकर और नमो मीणा सहित कुल छह लोगों का नाम लिया।