अगले साल वापस उछलेगी भारतीय अर्थव्यवस्था, चीन भी छूट जाएगा पीछे

0
3

लाइव हिंदी ख़बर:-कोरोना संकट के कारण भारतीय अर्थव्यवस्था को बड़ी कठिनाइयों का सामना करना पड़ रहा है। ऐसे में अंतर्राष्ट्रीय मुद्रा कोष (IMF) ने भारतीय अर्थव्यवस्था के बारे में अच्छी खबर दी है। आईएमएफ ने कहा कि भारतीय अर्थव्यवस्था के अगले साल अच्छा प्रदर्शन करने की उम्मीद है।

वर्तमान वित्तीय वर्ष भारतीय अर्थव्यवस्था के लिए अच्छा नहीं है। 2021 में सब कुछ ठीक होने की उम्मीद है। यह अंतर्राष्ट्रीय मुद्रा कोष (आईएमएफ) के एक नए अनुमान के अनुसार है।

पिछले हफ्ते विश्व बैंक ने भारत के सकल घरेलू उत्पाद में इस वित्त वर्ष में 9.6 प्रतिशत की गिरावट का अनुमान लगाया था। इसके अलावा मूडीज सहित कई बड़ी रेटिंग एजेंसियों ने पहले ही जीडीपी में गिरावट की भविष्यवाणी की थी।

10.3 प्रतिशत की गिरावट

अंतर्राष्ट्रीय मुद्रा कोष (आईएमएफ) ने अनुमान लगाया है कि कोरोना वायरस ने भारतीय अर्थव्यवस्था को कड़ी टक्कर दी है और जीडीपी इस साल 10.3 प्रतिशत कम होने की उम्मीद है। IMF को उम्मीद है कि 2021 में भारतीय अर्थव्यवस्था में 8.8 प्रतिशत की वृद्धि होगी।

भारतीय अर्थव्यवस्था तेजी से उभरती अर्थव्यवस्था का दर्जा हासिल करने के लिए चीन से आगे निकल जाएगी। चीन की अर्थव्यवस्था 2021 में 8.2 प्रतिशत बढ़ने का अनुमान है।

नतीजतन जीडीपी विकास पूर्वानुमान में सुधार भारत के लिए एक बड़ी बात है, अंतर्राष्ट्रीय मुद्रा कोष का कहना है। पिछले वित्तीय वर्ष में भारत की आर्थिक विकास दर 4.2 प्रतिशत थी।

वैश्विक अर्थव्यवस्था में 4.4 फीसदी की गिरावट

चालू वित्त वर्ष में वैश्विक अर्थव्यवस्था में 4.4 प्रतिशत की कमी आने की उम्मीद है। नवीनतम आईएमएफ रिपोर्ट के अनुसार 2021 में यह 5.2 प्रतिशत की मजबूत दर से बढ़ती रहेगी। आईएमएफ के अनुसार चीन वर्ष-दर-वर्ष 1.9 प्रतिशत की दर से बढ़ने वाली दुनिया की एकमात्र प्रमुख अर्थव्यवस्था होगी।

विज्ञापन