Breaking News

महबूबा मुफ्ती की कश्मीरियों को पुकार ‘हमें वापस वही लेना है जो हमसे छीन लिया गया’

लाइव हिंदी ख़बर:-जम्मू-कश्मीर की पूर्व मुख्यमंत्री महबूबा मुफ्ती को 14 महीने बाद आज रिहा कर दिया गया। यह बात जम्मू-कश्मीर सरकार के प्रवक्ता रोहित कंसल ने कही। मुफ्ती को पिछले साल 4 अगस्त को हिरासत में भेज दिया गया था।

मुफ्ती ने कहा कि हमें याद रखना चाहिए कि दिल्ली की अदालत ने अवैध और अलोकतांत्रिक तरीके से 5 अगस्त को हमसे क्या छीन लिया। हम इसे वापस पाना चाहते हैं।

अपनी रिहाई पर महबूबा मुफ्ती ने अपने ट्विटर हैंडल से एक ऑडियो संदेश साझा किया। इसमें वह कहती हैं कि मुझे एक साल से अधिक समय के बाद आज रिहा किया गया है। इस बीच 5 अगस्त, 2019 के काले दिन काला निर्णय मेरे दिल और आत्मा पर हर पल हमला कर रहा है और इसी तरह जम्मू-कश्मीर के लोग भी उस दिन की लूट और अपमान को भूल जाएंगे।

महबूबा मुफ्ती ने आगे कहा कि 5 अगस्त को दिल्ली दरबार ने हमसे जो अवैध तरीके से छीन लिए हैं, उन्हें बरामद किया जाना चाहिए। साथ ही हमें कश्मीर को वापस पाने के लिए अपने प्रयासों को जारी रखना चाहिए, जिसके लिए हजारों लोगों ने अपने जीवन का बलिदान दिया है। मुझे इस बात का अंदाजा है कि यह रास्ता बिल्कुल भी आसान नहीं होगा, लेकिन हम अपने साहस के बल पर इस कठिन रास्ते को पार कर लेंगे।

मुफ्ती ने कहा कि जो लोग अभी भी जम्मू-कश्मीर की जेल में हैं, उन्हें जल्द रिहा किया जाना चाहिए। मुफ्ती सहित कई नेताओं को अनुच्छेद 370 के बाद सार्वजनिक सुरक्षा अधिनियम (PSA) के तहत हिरासत में लिया गया था, जो जम्मू और कश्मीर राज्य को विशेष दर्जा देता है, हटा दिया गया था।

सुप्रीम कोर्ट ने 29 सितंबर को पूछा था कि महबूबा मुफ्ती को कितने दिनों तक हिरासत में रखा जा सकता है। अदालत ने उसे जवाब देने के लिए दो सप्ताह का समय दिया था।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *