हैदराबाद में भारी बारिश ने मचाई तबाही, दीवार ढहने से 2 महीने के बच्चे समेत 9 लोगों की मौत

0
11
:

लाइव हिंदी ख़बर:-आंध्र प्रदेश और तेलंगाना में पिछले तीन दिनों से बारिश हो रही है। मौसम विभाग ने अगले 24 घंटों में भारी बारिश की चेतावनी दी है। आंध्र प्रदेश सरकार ने सभी वर्षा प्रभावित जिलों के जिला कलेक्टरों को पत्र लिखा है और उन्हें सतर्क रहने का निर्देश दिया है।

दूसरी ओर राजधानी हैदराबाद में मूसलाधार बारिश के कारण एक दीवार गिरने से 2 महीने के बच्चे सहित नौ लोगों की मौत हो गई। सभी शवों को टीले के नीचे दफनाया गया है और बचाव कार्य जारी है।

हैदराबाद के सांसद असदुद्दीन ओवैसी ने मौके पर पहुंचकर स्थिति का निरीक्षण किया। मैं बांदलागुड़ा के मोहम्मदिया हिल्स क्षेत्र में तैरने गया था, जहां एक दीवार ढह गई है।

इस हादसे में नौ लोगों की मौत हो गई है। साथ ही 2 व्यक्ति घायल हो गए। असदुद्दीन ओवैसी ने ट्वीट कर कहा कि मैंने शमशाबाद में फंसे लोगों की मदद की। अब मैं तालाबकट्टा और यशबनगर जा रहा हूं।

इस बीच पूर्वी गोदावरी जिले में मूसलाधार बारिश के कारण बोम्मूर गाँव में उसके घर की छत गिरने से एक महिला की मौत हो गई। तेलंगाना में मूसलाधार बारिश के कारण अब तक 12 लोगों की मौत हो गई है। बारिश ने कई हिस्सों में पानी भर दिया है। आंध्र प्रदेश के कई जिलों में भारी बारिश से भारी नुकसान हुआ है। मंगलवार को बंगाल की खाड़ी में बना एक कम दबाव का बेल्ट आंध्र प्रदेश के पूर्वी गोदावरी जिले के काकीनाडा के तट पर चला गया।

इसी कारण जोरदार बारिश हो रही है। राज्य के आपदा प्रबंधन प्राधिकरण ने कहा कि दबाव की पट्टी कल सुबह 6.30 से 7.30 के बीच तटीय क्षेत्र से चली गई। पूर्वी गोदावरी जिले में मूसलाधार बारिश के कारण एक घर की छत गिरने से एक महिला की मौत हो गई।

आंध्र प्रदेश के मुख्य सचिव ने प्रभावित जिलों के वरिष्ठ अधिकारियों को पत्र लिखकर उन्हें हाई अलर्ट पर रहने का निर्देश दिया है। निचले इलाकों में बारिश के कारण बाढ़ आ जाती है और बाढ़ जैसे हालात पैदा हो सकते हैं। पेड़ गिर सकते हैं।

बिजली भी प्रभावित हो सकती है। इसे देखते हुए छोटे पुलों पर विशेष ध्यान दिया जाना चाहिए। जिन इलाकों में खतरनाक हालात पैदा होने की संभावना है, वहां ट्रैफिक और फुटपाथ को तत्काल बंद किया जाना चाहिए। मुख्य सचिव ने पत्र में लिखा है कि यह सुनिश्चित करने के लिए सावधानी बरती जाए कि जान-माल का नुकसान न हो।