साइबर बीमा: साइबर अपराधों के शिकार चिंता न करें, अब जल्द ही इसकी की जाएगी भरपाई

0
3

लाइव हिंदी खबर:- इंश्योरेंस रेगुलेटरी एंड डेवलपमेंट अथॉरिटी (IRDA) व्यक्तियों और व्यवसायों को साइबर अपराध से बचाने के लिए एक नई बीमा पॉलिसी लाने पर विचार कर रही है, जो बढ़ रही है, साथ ही साथ किसी भी नुकसान की भरपाई करने के लिए है। इससे निकट भविष्य में साइबर बीमा पॉलिसी की संभावना बढ़ गई है।

सामान्य बीमा पॉलिसियां साइबर जोखिम को कवर नहीं करती हैं। इसी तरह वर्तमान में उपलब्ध साइबर बीमा नीतियां ग्राहक की जरूरतों के अनुरूप हैं। इसका मतलब है कि बीमा पॉलिसी केवल साइबर सुरक्षा के लिए बाजार में उपलब्ध नहीं हैं, IRDA ने बताया है।
IRDA ने यह तय करने के लिए एक कार्य समूह का गठन किया है कि साइबर बीमा पॉलिसी को कैसे बाजार में लाया जाए और इसे कैसे डिजाइन किया जाए। कार्य समूह यह भी अध्ययन करेगा कि क्या एक मानक साइबर बीमा पॉलिसी होनी चाहिए या क्या नीति कंपनी से कंपनी में भिन्न होती है।
कार्य समूह एक साइबर बीमा पॉलिसी की संरचना का निर्णय लेते समय वर्तमान साइबर अपराधों के विभिन्न रूपों का भी अध्ययन करेगा। कोरोना अवधि के दौरान साइबर अपराधों में भारी वृद्धि के कारण इरडा की साइबर बीमा पॉलिसी ने बहुत ध्यान आकर्षित किया है।

लॉकडाउन के दौरान साइबरस्पेस में आने वाली तीन चीजें अर्थव्यवस्था, शिक्षा और मनोरंजन थीं। बेशक मोबाइल, लैपटॉप का उपयोग बढ़ गया। साइबर क्रिमिनल इसका फायदा उठा रहे हैं और नए प्रवेशकों को निशाना बना रहे हैं।

इसके कारण इस अवधि के दौरान देश में साइबर अपराधों की संख्या में लगभग 500 प्रतिशत की वृद्धि हुई है। वित्तीय धोखाधड़ी के मामले सबसे आगे हैं। वहीं इसका शिकार होने वाले किशोर छात्रों की संख्या भी बढ़ रही है।
देश में अपराध का लेखा-जोखा प्रदान करने वाली रिपोर्ट क्राइम इन इंडिया 2019 हाल ही में जारी की गई है। यह देश में अपराध पर विस्तृत जानकारी प्रदान करता है। 2019 में देश में कुल 51 लाख 56 हजार 172 अपराध दर्ज किए गए हैं।

इसमें 44 हजार 556 साइबर अपराध हैं। 2018 में देश में 27 हजार 248 साइबर अपराध हुए। इस साल साइबर अपराधों की संख्या में 63 फीसदी की वृद्धि हुई है। धोखाधड़ी के उद्देश्य से सबसे अधिक साइबर अपराध (26891) किए गए। इनमें डेबिट, क्रेडिट कार्ड, ऑनलाइन धोखाधड़ी के अपराध शामिल हैं। तब से 2266 मामले यौन उत्पीड़न के लिए दायर किए गए हैं।

विज्ञापन