दुनिया के सबसे सस्ते मेट्रो शहरों की सूची की गई जारी, भारत के ये दो शहर भी हैं शामिल

चेन्नईलाइव हिंदी खबर:- यह एक अच्छा वातावरण, स्वच्छ और सुंदर शहर में रहने के लिए कई का सपना है, विशेष रूप से मेट्रो शहर में। लेकिन इस तरह के शहरों की ओर रुख करने के लिए बजट सबसे महत्वपूर्ण कारक है।

क्योंकि सभी भेष बदले जा सकते हैं लेकिन पैसे का भेस नहीं। आज हम आपको मेट्रो सिटी के नाम से जाने जाने वाले दुनिया के सबसे सस्ते शहरों के बारे में बताएंगे जहां आपके बजट पर घर बनाना संभव होगा।

इकोनॉमिक इंटेलिजेंस यूनिट ने 2020 वर्ल्ड वाइड कॉस्ट ऑफ लिविंग सर्वे किया। तदनुसार एक रिपोर्ट बनाई गई थी और दुनिया भर के 130 शहरों के नामों की घोषणा की गई थी। इसमें दुनिया के सबसे सस्ते मेट्रो शहरों की सूची में भारत के दो शहर भी शामिल हैं।

इकोनॉमिक इंटेलिजेंस यूनिट (ईआईयू) ने 2020 वर्ल्ड वाइड कॉस्ट ऑफ लिविंग सर्वे के आधार पर दुनिया भर के 130 शहरों की रैंकिंग जारी की है। सबसे महंगे शहर हांगकांग और पेरिस हैं। देश के सबसे सस्ते शहर भारत में बैंगलोर और चेन्नई हैं।

सर्वेक्षण के अनुसार दमिश्क और ताशकंद एशिया के दो सबसे सस्ते शहर और दुनिया में दूसरे सबसे महंगे हैं। सर्वेक्षण के अनुसार, बैंगलोर और चेन्नई दोनों ही भारत में 9वें स्थान पर हैं। अंतिम सूची में चेन्नई 8 वें और बैंगलोर 9 वें स्थान पर था। साथ ही नई दिल्ली 10 वें स्थान पर थी।

ऐसा सर्वेक्षण वर्ष में एक बार किया जाता है। लेकिन कोरोना महामारी के बाद इस वर्ष एक बार फिर सर्वेक्षण किया गया है। ऐसा पहली बार हुआ है। तब से 130 शहरों की सूची जारी की गई है। इकोनॉमिक इंटेलिजेंस यूनिट द्वारा किया गया सर्वेक्षण, जीवन की लागत पर आधारित है।

कॉस्ट ऑफ लिविंग का अर्थ है कि घर में भोजन की लागत, किराया, कार्यालय के लिए यात्रा व्यय, बिजली और पानी के बिलों पर ध्यान दिया जाता है। यह शहर में परिवहन और बाजार जैसे मुद्दों को भी कवर करता है।

दुनिया के सबसे सस्ते शहरों की सूची में क्रमशः दमिश्क, ताशकंद, लुसाका और कराकस, अलमाटी, कराची, ब्यूनस आयर्स, अल्जीयर्स, बैंगलोर और चेन्नई शामिल हैं।