पूरी ताकत से महामारी के प्रसार को रोकेगा चीन

20


बीजिंग, 10 जनवरी (आईएएनएस)। चीन के राष्ट्रीय स्वास्थ्य आयोग के निदेशक मा श्याओवेई ने 8 जनवरी को हपेई प्रांत में महामारी की रोकथाम और नियंत्रण पर आयोजित एक वीडियो कॉन्फ्रेंस में जोर दिया कि महामारी की रोकथाम और नियंत्रण के महत्व और तात्कालिकता के बारे में जागरूकता बढ़ाना, आपातकाल की स्थिति में प्रवेश करना और हपेई प्रांत में महामारी की रोकथाम और नियंत्रण को मजबूत करते हुए भरपूर शक्ति से इसके प्रसार को रोकना आवश्यक है।

हाल ही में पेइचिंग से 300 किलोमीटर से अधिक की दूरी पर स्थित हपेई प्रांत की राजधानी शीच्याचुआंग में कोविड-19 महामारी से संक्रमित कुछ मामले सामने आए हैं। वहां सभी लोगों के लिए न्यूक्लिक एसिड परीक्षण तुरंत ही शुरू किया गया। शीच्याचुआंग ने 1 करोड़ 2 लाख 50 हजार लोगों के लिए न्यूक्लिक एसिड परीक्षणों का पहला दौर पूरा कर लिया है और कुल 354 सकारात्मक मामले सामने आए हैं, जिनमें से 87 प्रतिशत मुख्य रूप से शीच्याचुआंग शहर के गाओछंग जि़ले में केंद्रित हैं। महामारी की रोकथाम और नियंत्रण की स्थिति अभी भी गंभीर है।

मा श्याओवेई ने कहा कि महत्वपूर्ण रोकथाम और नियंत्रण कदमों के कार्यान्वयन को मजबूत करने, न्यूक्लिक एसिड परीक्षण पर कायम रहते हुए रोकथाम का विस्तार करने, सभी लोगों के लिए न्यूक्लिक एसिड परीक्षण की प्रगति और गुणवत्ता सुनिश्चित करने, संक्रमण के संभावित स्रोतों का तेजी से अलगाव करने और बहु-विभागीय सहयोग को मजबूत करते हुए जल्द से जल्द फैलाव की श्रृंखला का पता चलाने की जरूरत है।

उन्होंने यह भी कहा कि पर्याप्त अलगाव कमरे तैयार करने, अलगाव के दौरान संक्रमण को रोकने के लिए कर्मियों का सख्ती से संगरोध करने के साथ-साथ अस्पतालों में शून्य संक्रमण को पूरी तरह से प्राप्त करना होगा।

गौरतलब है कि 7 जनवरी तक 3 हजार से अधिक चिकित्सा कर्मी महामारी की रोकथाम और नियंत्रण में मदद करने, न्यूक्लिक एसिड परीक्षण करने के लिए शीच्याचुआंग पहुंचे।

(साभार-चाइना मीडिया ग्रुप, पेइचिंग)

— आईएएनएस

विज्ञापन