कर्नाटक के कॉलेजों में ऑफलाइन कक्षाएं

6


बेंगलुरू, 11 जनवरी (आईएएनएस)। कर्नाटक में स्नातक, स्नातकोत्तर, इंजीनियरिंग और डिप्लोमा पाठ्यक्रमों के छात्रों के लिए ऑफलाइन शिक्षा (क्लासरूम टीचिंग) 15 जनवरी को फिर से शुरू होगी।

कर्नाटक सरकार नौ महीने के बाद राज्य के कॉलेजों को फिर से खोलने जा रही है। प्रदेश के उपमुख्यमंत्री सी.एन. अश्वथ नारायण ने कहा कि प्रथम, द्वितीय और तृतीय वर्ष के छात्रों के लिए कक्षाएं मकर संक्रांति के बाद फिर से शुरू होंगी।

उच्च शिक्षा के प्रभारी नारायण ने यहां संबंधित अधिकारियों के साथ बैठक के बाद कहा कि अधिकारी पहले से ही अंतिम वर्ष के छात्रों के लिए ऑफलाइन कक्षाएं आयोजित कर रहे थे।

उन्होंने कहा, मानक संचालन प्रक्रियाओं (एसओपी) के अनुसार, सभी हॉस्टल एवं बस सुविधाओं के साथ एनसीसी और एनएसएस क्लास को भी फिर से शुरू किया जाएगा। सामाजिक कल्याण और पिछड़े वर्ग के विभागों को अपने संबंधित हॉस्टलों में एसओपी का पालन करने और इसे लागू करने का निर्देश दिया गया है।

कॉलेज में क्लासरूम के साथ ही लाइब्रेरी, कैंटीन और अन्य स्थानों पर एसओपी का कड़ाई से पालन सुनिश्चित किया जाएगा। मंत्री ने कहा कि कॉलेज परिसर में एनसीसी छात्रों के लिए कोरोनावायरस परीक्षण शिविर लगाए जाएंगे।

नारायण ने कहा, कॉलेजों में कोविड-19 के लिए परीक्षण और स्वच्छता संबंधी सुविधाओं के साथ ही सामाजिक दूरियों के मानदंडों का पालन किया जाएगा।

उन्होंने कहा, कर्नाटक में निजी और सरकारी विश्वविद्यालयों के कुलपतियों के साथ ऑफलाइन परीक्षा आयोजित करने के लिए भी बातचीत चल रही है। परीक्षा संबंधी कार्यक्रम जल्द ही जारी किया जाएगा।

–आईएएनएस

एकेके/एसजीके

विज्ञापन