बीजिंग, 10 जून (आईएएनएस)। चीनी मानवयुक्त अंतरिक्ष इंजीनियरिंग कार्यालय के मुताबिक, 9 जून को मानवयुक्त अंतरिक्षयान शनचओ-12 और छांगचंग-2 एफ याओ-12 वाहक रॉकेट का संयोजन प्रक्षेपण केंद्र तक पहुंचाया गया है। वर्तमान में प्रक्षेपण स्थल की सुविधाएं और उपकरण अच्छी स्थिति में हैं।

कुछ दिन पहले, चीनी मानवयुक्त अंतरिक्ष इंजीनियरिंग के उप जनरल डिजाइनर यांग लीवेई ने इन्टरव्यू देते हुए कहा था कि शनचओ-12 मानवयुक्त अंतरिक्षयान योजनानुसार जून में तीन अंतरिक्ष यात्रियों को अंतरिक्ष में भेजेगा। ये तीन अंतरिक्ष यात्री थ्येन-ह नामक अंतरिक्ष स्टेशन के मुख्य केबिन में पहली खेप वाले निवासी बन जाएंगे और वहां 3 महीने तक ठहरेंगे। इस दौरान तीनों अंतरिक्ष यात्री केबिन के बाहर रखरखाव, उपकरण प्रतिस्थापन, और वैज्ञानिक अनुप्रयोग लोड जैसा श्रृंखलाबद्ध संचालन पूरा करेंगे।

यांग लीवेइ के मुताबिक, शनचओ-12 में सवार 3 अंतरिक्ष यात्री चीन में पहली और दूसरी खेप वाले अंतरिक्ष यात्रियों में से चुने गए। अंतरिक्ष स्टेशन निर्माण परियोजना के अनुसार, चीन इस वर्ष और अगले साल लगातार 11 उड़ान भरेगा, जिनमें 3 बार अंतरिक्ष स्टेशन के लिए केबिन का प्रक्षेपण, 4 बार मालवाहक अंतरिक्षयान का प्रक्षेपण और 4 बार मानवयुक्त अंतरिक्षयान का प्रक्षेपण शामिल हैं। योजनानुसार साल 2022 में अंतरिक्ष स्टेशन के कक्षीय निर्माण को पूरा किया जाएगा।

बता दें कि इस वर्ष 29 अप्रैल और 29 मई को चीन ने क्रमश: थ्येन-ह अंतरिक्ष स्टेशन के मुख्य केबिन तथा थ्येनचओ-2 मालवाहक अंतरिक्षयान का सफल प्रक्षेपण किया। जून महीने में प्रक्षेपण किए जाने के बाद शनचओ-12 मानवयुक्त अंतरिक्षयान थ्येन-ह मुख्य केबिन के साथ जुड़ेगा। वहीं, आगामी सितंबर और अक्तूबर दोनों महीने में चीन क्रमश: थ्येनचओ-3 मालवाहक अंतरिक्षयान और शनचओ-13 मानवयुक्त अंतरिक्षयान का प्रक्षेपण करेगा।

–आईएएनएस

आरएचए

( साभार- चाइना मीडिया ग्रुप, पेइचिंग )







Advertisements