31 दिसम्बर से बदल जाएगा शनि, इन 2 राशियों का स्वामी ग्रह, जानिए इन राशियों से जुड़ी खास बातें…

9

27 अगस्त से बदल जाएगा शनि, इन 2 राशियों का स्वामी ग्रह, जानिए इन राशियों से जुड़ी खास बातें… लाइव हिंदी खबर :27 अगस्त की रात, शनि प्रतिगामी से पीछे हट जाएगा। इसका मतलब है कि यह सीधा चलना शुरू करता है। यह सभी राशियों को प्रभावित करता है।

उज्जैन ज्योतिष में कुल 12 राशियाँ हैं। इन 12 राशियों के अलग-अलग ग्रह स्वामी हैं। भगवान शनि मकर और कुंभ राशि के स्वामी हैं। यहां जानिए, उज्जैन के पंडित ज्योतिषाचार्य मनीष शर्मा के अनुसार, शनि के बारे में खास बातें …

इन शनि राशियों पर विशेष कृपा होती है।

शनिदेव को ग्रहों का न्यायाधीश भी माना जाता है, इस कारण से उनका नौ ग्रहों में विशेष स्थान है। मकर और कुंभ राशि पर शनिदेव की विशेष कृपा है। यदि स्थानीय कुंडली में मकर और कुंभ राशि में शनि शुभ स्थिति में हैं, तो वे भाग्यशाली होंगे।

मकर राशि

1. नाम का पहला अक्षर भो, जा, जी, खी, खू, खा, खो या गा है। इस राशि के लोग बहुत महत्वाकांक्षी होते हैं। वे लगातार सम्मान और सफलता प्राप्त करने का प्रयास करते हैं।

2. ये लोग लक्ज़री आइटम पसंद करते हैं, लेकिन उन्हें अपनी ज़रूरतों को पूरा करने के लिए बहुत मेहनत करनी पड़ती है।

3. उन्हें यात्रा करना बहुत पसंद है। चरम प्रकृति के कारण, एक व्यक्ति आसानी से दोस्त नहीं बना सकता है।

4. ये लोग आमतौर पर कम बात करने वाले होते हैं। जहाँ आवश्यक हो बोलो।

5. ईश्वर, भाग्य पर भरोसा। ये लोग देखने में सुस्त लग सकते हैं, लेकिन बहुत सक्रिय हैं।

कुंभ राशि

1. गो, गे, गो, सा, सी, सू, से, वे, प्रथम अक्षर वाले कुंभ राशि के लोग होते हैं। यह राशि चक्र की ग्यारहवीं राशि है। कुंभ राशि का चिह्न वह व्यक्ति है जो मिट्टी के लिए खड़ा है। यही कारण है कि इस राशि वाले लोग गंभीर होते हैं और कड़ी मेहनत करना पसंद करते हैं।

2. कुंभ राशि वाले लोग बुद्धिमान होने के साथ-साथ बुद्धिमान होते हैं। जनता के बीच रहना पसंद करता है

3. इस राशि वाले लोग किसी से जल्दी दोस्ती कर सकते हैं। ये लोग सामाजिक गतिविधियों में रुचि रखते हैं।

4. वे साहित्य, कला, संगीत और उदारता से प्यार करते हैं।

5. कभी भी अपने दोस्तों को असमान रूप से न देखें। उनका व्यवहार सभी को उनकी ओर आकर्षित करता है।