Breaking News

TOP NEWS मुनाफावसूली के चलते 5वें सत्र में टूटा शेयर बाजार, सेंसेक्स 50,000 के नीचे फिसला (राउंडअप)

मुंबई, 22 फरवरी (आईएएनएस)। देश के शेयर बाजार में सोमवार को लगातार पांचवें सत्र में गिरावट जारी रही। कमजोर वैश्विक संकेतों और बिकवाली का भारी दबाव बढ़ने के कारण दलाल स्ट्रीट पर कोहराम का आलम रहा। सेंसेक्स 1145 अंक लुढ़ककर 50,000 के नीचे बंद हुआ और निफ्टी भी 306 अंक फिसलकर 14,700 के नीचे ठहरा।

ऊर्जा, आईटी समेत ज्यादातर सेक्टरों में बिकवाली का दबाव रहा, जबकि धातु में लिवाली रही। जानकार बताते हैं कि मुनाफावसूली के चलते बाजार में भारी गिरावट आई।

सेंसेक्स बीते सत्र से 1145.44 अंकों यानी 2.25 फीसदी की गिरावट के साथ 49,744.32 पर बंद हुआ और निफ्टी 306.05 अंकों यानी 2.04 अंकों की गिरावट के साथ 14,675.70 पर बंद हुआ।

बंबई स्टॉक एक्सचेंज (बीएसई) के 30 शेयरों पर आधारित संवेदी सूचकांक सेंसेक्स बीते सत्र से 20.75 अंकों की बढ़त के साथ 50,910.51 पर खुला और 50,986.03 चढ़ने के बाद फिसलकर 49,617.37 पर आ गया।

नेशनल स्टॉक एक्सचेंज (एनएसई) के 50 शेयरों पर आधारित संवेदी सूचकांक निफ्टी भी बीते सत्र से 17.30 अंकों की बढ़त के साथ 14,999.05 पर खुला और 15,010.10 तक चढ़ने के बाद फिसलकर 14,635.05 पर आ गया।

बीएसई मिड-कैप सूचकांक बीते सत्र से 269.29 अंकों यानी 1.34 फीसदी की गिरावट के साथ 19,766.23 पर बंद हुआ और स्मॉल-कैप सूचकांक पिछले सत्र से 201.52 अंकों यानी 1.01 फीसदी की गिरावट के साथ 19,661.89 पर ठहरा।

सेंसेक्स के 30 शेयरों में से सिर्फ तीन शेयर बढ़त के साथ बंद हुए, जबकि 27 शेयरों में गिरावट रही। सबसे ज्यादा गिरावट वाले पांच शेयरों में डॉ रेड्डी (4.77 फीसदी), एमएंडएम (4.51 फीसदी), टेक महिंद्रा (4.42 फीसदी), इंडसइंड बैंक (4.25 फीसदी) और एक्सिस बैंक (3.96 फीसदी) शामिल रहे। बढ़त के साथ बंद हुए शेयरों में ओएनजीसी (1.14 फीसदी), एचडीएफसी बैंक (0.64 फीसदी) और कोटक बैंक (0.58 फीसदी) शामिल रहे।

बीएसई के 19 सेक्टरों में से 17 सेक्टरों में गिरावट रही, जबकि दो सेक्टरों के सूचकांक बढ़त के साथ बंद हुए।

सबसे ज्यादा गिरावट वाले पांच सेक्टरों में ऊर्जा (2.92 फीसदी), रियल्टी (2.88 फीसदी), आईटी (2.58 फीसदी), टेक (2.53 फीसदी) और ऑटो (2.30 फीसदी) शामिल रहे, जबकि बढ़त के साथ बंद हुए सेक्टरों में धातु (2.24 फीसदी) और आधारभूत सामग्री (0.29 फीसदी) शामिल रहे।

बीएसई पर कुल 3,467 शेयरों में कारोबार हुआ, जिनमें से 1,166 शेयरों में तेजी रही, जबकि 2,122 शेयर गिरावट के साथ बंद हुए। कारोबार के आखिर में 179 शेयर बिना किसी बदलाव के बंद हुए।

ट्रेड स्विफ्ट के डायरेक्टर संदीप जैन ने बताया कि, कोरोना के कहर और वैश्विक बाजारों से मिले कमजोर संकेतों के चलते घरेलू शेयर बाजार में मुनाफावसूली हावी रही, जिसके कारण प्रमुख संवेदी सूचकांकों में भारी गिरावट आई।

–आईएएनएस

पीएमजे/एएनएम

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *