इस पत्ते का खाना बनाते समय करें प्रयोग, होंगे कई सारे फायदे

293

हेल्थ कार्नर :-   भारत एकमात्र ऐसा देश है जो मसालों का सबसे अधिक प्रयोग करता है। मसाले खाने का स्वाद तो बढ़ाते ही है, साथ ही हमारे स्वास्थ्य का भी ध्यान रखते हैं। आमतौर पर हम जितने भी मसालों का प्रयोग करते हैं वह सभी एक प्रकार की आयुर्वेदिक औषधि होती है। तो आज हम ऐसे ही एक आयुर्वेदिक औषधि तेजपत्ता के औषधीय गुणों के बारे में जानेंगे।

इस पत्ते का खाना बनाते समय करें प्रयोग, होंगे कई सारे फायदे

डायबिटीज के लिए – तेजपत्ते में सोडियम, फास्फोरस और पोटेशियम जैसे तत्व पाए जाते हैं। जो डायबिटीज के मरीजों के लिए बेहद लाभदायक होते हैं। 4 से 5 तेजपत्ते का बारीक पाउडर बना लें और इस पाउडर को एक चुटकी भर एक गिलास पानी के साथ रोजाना सुबह सेवन करें इससे डायबिटीज में काफी राहत मिलती है।

पथरी की समस्या – पथरी की समस्या में तेजपत्ते का सेवन काफी लाभदायक होता है। एक छोटा तेजपत्ते को एक गिलास पानी में उबालें फिर इस पानी को ठंडा कर इसका सेवन करें। इससे किडनी के इंफेक्शन में काफी राहत मिलती है।

खांसी को भगाए – दवाई लेने के बावजूद खांसी नहीं रुक रही है तो समान मात्रा में छोटी पीपल और तेजपत्ता ले और इसका पाउडर बना लें। इस पाउडर का आधा चम्मच, एक चम्मच शहद के साथ सेवन करें इससे खांसी आना बंद हो जाएंगी।