फ्रिज की तुलना में मटके का पानी पीने से होंगे 11 चमत्कारी फायदे

फ्रिज की तुलना में मटके का पानी पीने से होंगे 11 चमत्कारी फायदे

लाइव हिंदी खबर  :-   मटके का पानी पीना सेहत के लिए काफी फायदेमंद साबित होता हैं। इसका तापमान सामान्य होता हैं जो शरीर को शीतलता को प्रदान करता हैं। मटके पानी पीने से कई प्रकार की बीमारियां दूर होती हैं जबकि फ्रिज का ठंडा पानी कई बीमारियों को उत्पन्न करता हैं। तो आइए जानते हैं मटके का पानी पीने के फायदे।

फ्रिज की तुलना में मटके का पानी पीने से होंगे 11 चमत्कारी फायदे

 

1. एक वैज्ञानिक शोध के अनुसार मटके या घड़े में रखा पानी फ्रिज के पानी की तुलना बहुत ज्यादा गुणकारी होता हैं। मिट्टी में कई प्रकार के रोगों से लड़ने की क्षमता पाई जाती हैं। मिट्टी के ये गुण पानी में मिल जाते हैं जो पानी के स्वाद को बढाने के साथ ही शरीर को रोगमुक्त भी रखते हैं।

2. मटके का पानी पाचनक्रिया को बेहतर बनाता हैं। नियमित रूप से सर्दी और गर्मी में मटके का पानी ही पीना चाहिए। इससे रोगप्रतिरोधक क्षमता बढ़ती हैं। मटके में रखा पानी टेस्टोस्टेरोन का स्तर बढ़ाता हैं।

3. मटके का पानी पीने से शरीर की अशुद्धियां दूर होती हैं और टॉक्सिन बाहर निकलते हैं। यह पेट की पथरी और लिवर की गंदगी को भी दूर करता हैं।

4. मटके का पानी शरीर की इम्यूनिटी को बढ़ाता हैं। फ्रिज के पानी की अपेक्षा यह ज्यादा फायदेमंद हैं क्योंकि ये पानी पीने में हल्का और शीतल होता हैं जो कब्ज और एसिडिटी की समस्याओं को दूर करता हैं।

5. हमेशा मटके का पानी पीने से घमोरियां नहीं होती हैं। यह शरीर से अतिरिक्त नमक को यूरिन के साथ बाहर निकाल देता हैं जिससे घमोरियां जैसी समस्या नहीं होती हैं।

6. लकवे से पीड़ित व्यक्ति को हमेशा मिट्टी के बर्तन में रखा पानी ही पिलाना चाहिए ना कि स्टील, प्लास्टिक आदि में रखा पानी। फ्रिज का पानी लकवे से पीड़ित व्यक्ति को कभी नहीं पिलाना चाहिए। मटके का पानी पीने से मांसपेशियों में खिंचाव कम होता हैं ओर4 लकवे का असर भी धीरे-धीरे कम हो जाता हैं।

7. मटके का ठंडा पानी पीने से मोटापा नहीं बढ़ता और पेट बाहर नहीं निकलता जबकि फ्रिज का ठंडा पानी मोटापा बढ़ाता हैं और पेट को बाहर निकालने लगता हैं।

8. मटके पानी फेफड़ो और आंतों के लिए अच्छा रहता हैं इससे फेफड़ो व आंतों में जमा गंदगी दूर होती हैं। जबकि फ्रिज का पानी पीने से ऐसा नहीं होता।

9. फ्रिज का ठंडा पानी पीने से दांतों पर बुरा असर पड़ता हैं इससे दांतों में सेंसिटिविटी की समस्या हो सकती और दांत कमजोर हो सकते हैं। जबकि मटके का पानी दांतो को मजबूत और चमकदार बनाता हैं।

10. मटके का पानी पीने से सीने में जमा कफ बाहर निकल जाता हैं जबकि फ्रिज का पानी पीने से कफ और ज्यादा बनता बनने लगता हैं और कठोर बन जाता हैं।

11. फ्रिज का ठंडा पानी पीने बार-बार प्यास लगती हैं और इससे गर्म खून ठंडा होने लगता हैं जिसके कारण अधिक एनर्जी खपत होती हैं। जबकि मटके का पानी पीने से प्यास भी बार-बार नहीं लगती और एनर्जी भी बनी रहती हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *