राष्ट्रपति द्रौपदी मुर्मू ने दिल्ली में राष्ट्रीय ध्वज फहराया, कर्तव्य पथ पर पहला मार्च

4
74वां गणतंत्र दिवस |  राष्ट्रपति द्रौपदी मुर्मू ने दिल्ली में राष्ट्रीय ध्वज फहराया: कर्तव्य पथ पर पहला मार्च |  राष्ट्रपति मुर्मू ने फहराया तिरंगा, परेड शुरू

लाइव हिंदी खबर :- देशभर में 74वां गणतंत्र दिवस हर्षोल्लास के साथ मनाया जा रहा है। इस मौके पर राष्ट्रपति द्रबूपति मुर्मू ने राजधानी दिल्ली में राष्ट्रीय ध्वज फहराया. 21 तोपों की आवाज के बीच राष्ट्रपति द्वारा राष्ट्रीय ध्वज फहराया गया। राष्ट्रगान बजाया गया। बाद में गणतंत्र के राष्ट्रपति ने तीनों सशस्त्र बलों सहित विभिन्न सशस्त्र बलों की परेड का उद्घाटन कर परेड सम्मान स्वीकार किया।

परेड में सबसे पहले मिस्र के सशस्त्र बलों का संयुक्त बैंड था। इस ग्रुप में 144 खिलाड़ी थे। उन्होंने मिस्र के सशस्त्र बलों की मुख्य शाखाओं का प्रतिनिधित्व किया। समूह का नेतृत्व कर्नल मोहम्मद मोहम्मद अब्देल फतह अल क़रासावी ने किया था।

पहली बार.. 3 किमी के खंड, जिसे ब्रिटिश काल के दौरान ‘किंग्स वे’ नाम दिया गया था और जिसे राजपति के नाम से जाना जाता था, का हाल ही में पुनर्निर्माण किया गया है। इसके बाद इसका नाम बदलकर ‘कर्तव्य पथ’ कर दिया गया। गणतंत्र दिवस रैली आज पहली बार ‘कदम पथ’ पर आयोजित की जा रही है, जिसका नाम पिछले साल सितंबर में औपनिवेशिक निशान की पहचान बदलने के लिए रखा गया था। इसी प्रकार अग्निपथ परियोजना के माध्यम से सेना में शामिल हुए प्रथम प्लाटून के जवानों ने भी पहली बार इस परेड में भाग लिया।

युद्ध पूर्व सैनिकों के स्मारक पर श्रद्धांजलि: इससे पहले ठीक 10 बजे प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने युद्ध स्मारक पर श्रद्धांजलि अर्पित की। उनके साथ केंद्रीय रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह और सेना के तीन कमांडरों ने भी श्रद्धांजलि दी। फिर पीएम मोदी ने वहां नोटबुक में अपना नोट लिखा।

वहां से वह ड्यूटी लाइन पर गए जहां गणतंत्र दिवस समारोह आयोजित किया गया था। वहां, राष्ट्रपति द्रबूपति मुर्मू ने विशिष्ट अतिथि, मिस्र के राष्ट्रपति अब्देल बदक अल-सिसी का स्वागत किया।